जब चोरों ने माफी माँगी और लौटाया सारा सामान

0
92

बांदा । उत्तर प्रदेश के बांदा में दिलचस्प घटना सामने आई है। यहां चोरों ने पहले एक वेल्डिंग की दुकान से हजारों का सामान चुराया लेकिन बाद में पीड़ित की माली हालत पता चली तो उनका दिल पसीज गया। चोरों ने माफीनामे के साथ पीड़ित को सारा सामान दोबारा लौटा दिया। उन्होंने चोरी का सामान एक बोरी और डिब्बे में पैक किया और उसके ऊपर एक कागज में माफी भी लिखकर चिपका दिया। यह घटना इलाके के साथ-साथ पुलिस महकमे में भी चर्चा का विषय बनी हुई है।
घटना बांदा के बिसंडा थाना इलाके की है। यहां चंद्रायल गांव में रहने वाले दिनेश तिवारी की आर्थिक हालत काफी खराब है। कुछ समय पहले ही उन्होंने 40 हजार रुपये का कर्ज लेकर वेल्डिंग का काम डाला था। 20 दिसंबर को रोजाना की तरह जब वह अपनी दुकान पहुंचे तो ताला टूटा मिला और औजार समेत अन्य सामान गायब था। उन्होंने बिसंडा थाने में घटना की सूचना दी।
चोरों ने लिखा- हमसे गलती हुई है
हालांकि मौके पर दरोगा के न मिलने के कारण केस दर्ज नहीं हो सका। 22 दिसंबर को उन्हें गांव के कुछ लोगों ने बताया कि उनका सामान कुछ दूरी पर पड़ा हुआ है। चोर दिनेश का सामान गांव की ही एक खाली जगह पर फेंक कर चले गए थे। दिनेश ने देखा कि एक बोरी में उसका सामान रखा हुआ और उसके ऊपर एक कागज भी चिपका हुआ था। लेटर में लिखा था, ‘यह दिनेश तिवारी का सामान है। हमें बाहरी आदमी से आपके बारे में जानकारी हुई। हम सिर्फ उसे जानते हैं जिसने लोकेशन (सूचना) दी कि वह (दिनेश तिवारी) कोई मामूली आदमी नहीं है। पर जब हमें जानकारी हुई तो हमें बहुत दुख हुआ इसलिए हम आपका सामान वापस देते हैं। गलत लोकेशन की वजह से हमसे गलती हुई।’
चर्चा का विषय बनी घटना
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, वापस सामान मिलने की खुशी पर दिनेश तिवारी ने कहा, ‘मेरी वेल्डिंग की दुकान में 20 दिसंबर को चोरी हो गई थी, जब मैं उस दिन वहां पहुंचा तो चोर वहां से 2 वेल्डिंग मशीन, 1 कांटा (तौलने वाला), 1 बड़ी कटर मशीन, 1 ग्लेंडर और 1 ड्रिल मशीन कुल 6 सामान चोरी कर ले गए थे।’ दिनेश ने बताया कि वह उसी दिन थाने में शिकायत करने पहुंचे थे तो कहा गया कि दरोगा जी मुआयना करने आएंगे लेकिन कोई आया नहीं। हालांकि सामान वापस मिलने से दिनेश राहत महसूस कर रहे हैं। यह घटना पूरे इलाके में चर्चा का विषय बन गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twelve − 2 =