जीएसटी के 5 वर्षों का एमसीसीआई ने किया आकलन

0
39

कोलकाता । मर्चेंट्स चेम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ने “जीएसटी के पांच वर्षों का आकलन करते हुए एक सत्र आयोजित किया। सत्र को , केंद्रीय जीएसटी और सीएक्स की प्रधान मुख्य आयुक्त वी रमा मैथ्यू ने सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि भुगतान प्रक्रिया में एमएसएमई क्षेत्रों को जीएसटी से काफी हद तक लाभ हुआ है। इस क्षेत्र में समस्या बड़े पैमाने पर अनधिकृत पंजीकरण को लेकर है।
राज्य सरकार के कर आयुक्त खालिद ऐजाज अनवर ने कर धोखाधड़ी, विवादास्पद मुद्दों, पोर्टल गड़बड़ियों और अनुपालन की कठिनाइयों के साथ राजस्व संग्रह में चुनौतियां भी।
सत्र में डॉलर इंडस्ट्रीज के प्रबन्ध निदेशक विनोद कुमार गुप्ता ने उद्योग जगत, रोड कार्गो मूवर्स प्रा. लिमिटेड के प्रबन्ध निदेशक और परिवहन क्षेत्र पर एमसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष संतोष सराफ ने परिवहन क्षेत्र पर, किंग केमिकल्स के प्रोपराइटर और एमसीसीआई एमएसएमई काउंसिल के चेयरमैन संजीब कोठारी ने एमएसएमई समेत अन्य सदस्यों ने कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर बात रखी। अरुण कुमार अग्रवाल, जीएसटी के अध्यक्ष, एमसीसीआई के अप्रत्यक्ष और राज्य कर परिषद ने सत्र का संचालन किया।। चर्चा के बाद एक ओपन हाउस सत्र हुआ।

Previous article‘प्रेमचंद का लेखन राजनीति को मशाल दिखाने का काम करता है’
Next articleआर्टिटेक्चर के प्रति जागरुकता लाने के लिए आयोजित हुई प्रदर्शनी
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × 5 =