टेनिस अब यह मेरे जीवन का हिस्सा है – प्राप्ति सेन

0
217

डांस स्कूल में टेनिस खेलने का मौका मिला वहीं से टेनिस मेरे जीवन का हिस्सा बन गया और फिर मेरी रुचि टेनिस में बढ़ती चली गई। भवानीपुर कॉलेज ने मुझे बहुत ही कम समय में कजाकिस्तान जाने के लिए सारी औपचारिकताएं पूरी की जिसके लिए मैं बहुत आभारी हूँ। कहती हैं प्राप्ति सेन। भवानीपुर एजूकेशन सोसाइटी कॉलेज की द्वितीय अंग्रेजी ऑनर्स की छात्रा प्राप्ति सेन ने हिन्दी भाषा के प्रति भी अपना प्रेम प्रदर्शित किया। डॉ. वसुन्धरा मिश्र ने इस युवा खिलाड़ी का साक्षात्कार लिया जो आपके सामने प्रस्तुत है – 

प्र. कब से टेनिस खेल रही हैं? टेनिस के प्रति आपका रुझान कैसे हुआ?
पाँच वर्ष की उम्र से मेरी माँ ने मुझे नृत्य शिक्षा के लिए डांस स्कूल में दाखिला करवाया था। जहाँ पर टेनिस भी था। मैंने वहीं टेनिस खेलना शुरू किया था। डांस कम और टेनिस अधिक खेलती थी। शुरु में तो प्रोफेशनल रूप से नहीं खेलती थी। स्कूल में आ कर मैंने प्रोफेशनल ढंग से खेलना शुरू किया था।
प्र. आप किस स्कूल से पढी़ हैं?
मैं जोका के केन्द्रीय विद्यालय की छात्रा हूँ। मैं बंगाल की हूँ लेकिन मुझे हिन्दी से बहुत लगाव है।
प्र. आपने स्कूल जीवन में टेनिस का कौन-सा अवार्ड प्राप्त किया?
स्कूल जीवन में 2013 में कैडट नेशन चैम्पियनशिप,2019 में जूनियर नेशन चैम्पियनशिप और वेस्ट बंगाल गवर्नमेंट द्वारा 2019 में खेलश्री का अवार्ड मिला।
प्र. कजाकिस्तान में आपको किस आधार पर आमंत्रित किया गया?
मैम एक तो मैंने बहुत से टेनिस मैच खेल चुकी जो राष्ट्रीय और राज्य स्तर पर रहे। दूसरा अवार्ड भी प्राप्त की। नेशनल रैंकिंग की वजह से कजाकिस्तान में मुझे अवसर दिया गया।
प्र. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर रजत पदक मिला? आपको कैसा लग रहा है? 
20 सितंबर 2021 में कजाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय टेनिस टूर्नामेंट में भाग लेना बहुत ही रोमांचक रहा। बहुत कम समय में मुझे सारे दस्तावेज भेजने थे। समय पर यदि नहीं भेजती तो भाग नहीं ले पाती। इसके लिए भवानीपुर कॉलेज के डीन प्रो. दिलीप शाह और खेल प्रशिक्षक रूपेश गांधी और भावेन परवान, दिव्या उदेशी, प्रो मीनाक्षी चतुर्वेदी का पूरा सहयोग रहा जिनकी वजह से सारी औपचारिकताएं पूरी हो सकी। अवार्ड में रजत पदक, प्रमाणपत्र के साथ ही  700 डॉलर भी मिले।
प्र. अब आगे आप टेनिस खिलाड़ी के रूप में किस टूर्नामेंट में भाग लेने जा रही हैं?
अब पंचकूला में होने वाले टूर्नामेंट में जाने के लिए तैयारी कर रही हूँ। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर टेनिस के लिए तुनिशिया और इक्वेडर जाना है।

Previous articleभवानीपुर कॉलेज में मिशन ओरिएंटेशन में नये विद्यार्थियों का स्वागत
Next articleहिन्दी के प्रथम साहित्येतिहास लेखक आचार्य रामचन्द्र शुक्ल
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × four =