भवानीपुर कॉलेज में इंटर काॅलेज संगीत महोत्सव ‘यूफोनियस 22’

0
46

कोलकाता । भवानीपुर एजूकेशन सोसाइटी कॉलेज में इंटर कालेज यूफोनियस 22 का भव्य उत्सव आयोजित किया गया। इस संगीत उत्सव में गीत संगीत के क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ प्रतिभाओं का चुनाव किया जाता है। युफोनियस 22 का उद्घाटन समारोह कॉलेज के डीन प्रो दिलीप शाह के वक्तव्य से हुआ। इसमें एकल इस्टर्न वेस्टर्न बॉलीवुड वाद्ययंत्र और रेपिंग, इस्टर्न वेस्टर्न बॉलीवुड अनकन्वेन्शनल, आर्केस्ट्रा आदि विभिन्न संगीत के क्षेत्रों में विद्यार्थी अपनी-अपनी प्रस्तुतियां देते हैं। निर्णायक मंडल में प्रसिद्ध संगीतज्ञों में कौस्तुभ बनर्जी, सृजिता कोनर, सौरभ चतुर्वेदी (दिल फेंक), आमंदी सिंघा (कैप्टन सिंह ए) और सौरभ चक्रवर्ती रहे। जिन्होंने अपने निर्णय दिए। कोलकाता के बारह कॉलेजों ने हिस्सा लिया जिसमें शिक्षायतन, शिवनाथ शास्त्री, जादवपुर युनिवर्सिटी, वोमेन्स चर्च कॉलेज, रानी बिरला गर्ल्स कॉलेज, टीएचके जैन कॉलेज, दी हेरिटेज कॉलेज, प्रफुल्ल चंद्र कॉलेज आदि के प्रत्येक प्रतिभागियों ने आठ प्रतियोगिताओं की प्रस्तुति दीं। होम टीम भवानीपुर एजूकेशन सोसाइटी कॉलेज और जादवपुर युनिवर्सिटी दोनों ही प्रथम स्थान पर विजेता रहे और हेरिटेज कॉलेज द्वितीय स्थान पर रहा। अनुष्का घोष (टीएचके जैन कॉलेज), सृजा पॉल (श्री शिक्षायतन), साहिल अहमद (भवानीपुर एजूकेशन सोसाइटी कॉलेज), अंकित दीक्षित (जादवपुर युनिवर्सिटी), जीत बसाक (हेरिटेज कॉलेज), इस्टर्न समूह में (जादवपुर युनिवर्सिटी), वेस्टर्न बैंड में देवांग नागर, सुप्रितम सरदार, वैभव घोष, पराज कुमार दास, बॉलीवुड बैंड में शुभलक्ष्मी मजूमदार, मधुरा पुरकायस्थ, देवांग नागर, टीम की प्रथम स्थान पर बेहतरीन प्रस्तुतियाँ रही। कार्यक्रम के अध्यक्ष कौस्तुभ बनर्जी और सृजिता कोनर ने गज़ल और श्लोक ‘मंगलम भगवान विष्णु’ और ‘राग भैरवी’ में बहुत सुंदर अभिव्यक्ति और भाव से पूर्ण प्रस्तुति दी ।हिंदी गीत केसरिया, सालयान, दुआ, पहला नशा और अंग्रेजी गीत लवली, शैलो, अनस्टोबल, गर्ल क्रश, फिलिंग गुड जैसे प्रसिद्ध गीतों की प्रस्तुति दी गयी जिसका आनंद बाहर से आए सभी विद्यार्थियों ने लिया। अर्क मुखर्जी, अनिशा नुवल और हर्षिता ने फोटोग्राफी में योगदान दिया। तनिशा हीरावत ने पूरे कार्यक्रम की रिपोर्ट दी। इस कार्यक्रम की जानकारी दी डॉ वसुंधरा मिश्र ने ।

Previous article ओपन माइक : आज लब्जों को मैंने चाय पे बुलाया है
Next articleसृजन सारथी सम्मान के लिए चयनित हुईं प्रो. प्रेम शर्मा
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 + fourteen =