योग दिवस पर आयोजित हुआ स्वस्थ जीवन शैली के लिए योग सत्र

0
27

कोलकाता । योग में इतनी शक्ति है की इसे करने से यह प्रकृति के प्रकाश और ऊर्जा को शरीर के विभिन्न अंगों तक पहुंचाकर शरीर को निरोग रखने में सहायक होता है। मंगलवार को 7वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर ‘नेफ्रोकेयर इंडिया’ की तरफ से योग के जरिए स्वस्थ जीवन शैली के प्रति समग्र दृष्टिकोण के साथ “योग फॉर हेल्दी लिविंग” नामक एक सत्र का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम मंत्रा के सहयोग से आयोजित की गई थी। इस पूरे कार्यक्रम को मैप5 इवेंट्स द्वारा संचालित किया गया। मंगलवार को सॉल्टलेक में स्थित गोल्डन ट्यूलिप होटल में आयोजित इस कार्यक्रम में 100 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया।

योग मानव जाति के लिए वरदान है। यह कई पुरानी बीमारियों से बचाता है। यह प्रकृति का सबसे अच्छा उपहार है, जो हर कोई स्वयं को दे सकता है। योग हमारे शरीर में रोजाना नई ऊर्जा का संचार करता है। जिससे पुरानी बीमारियां दूर होती है और योग हमारे शरीर को नई बीमारियों से बचाता है।

इस कार्यक्रम में डॉ. प्रतिम सेनगुप्ता (एमडी, इंटरनल मेडिसिन और नेफ्रोलॉजी के डीएम व मेंटर), शुभव्रत भट्टाचार्य (संस्थापक और निदेशक, मंत्र लाइफस्टाइल हेल्थ क्लब),आशीष मित्तल (निदेशक, गोल्डन ट्यूलिप होटल) के अलावा समाज की अन्य कई प्रतिष्ठित लोग उपस्थित थे।
एक दिवसीय इस कार्यक्रम में धौती क्रिया, अंग मर्दाना, सूर्य नमस्कार, ध्यान, ओम जप और प्राणायाम पर सत्र शामिल थे। कार्यक्रम में शामिल लोगों ने हठ योग, त्राटक और मौना नामक योग का भी अभ्यास किया। इस कार्यक्रम में स्वास्थ्य और योग के सिद्धांतों पर भी चर्चा हुई और उसके बाद योग और मन पर नियंत्रण पर चर्चा की गई।
इस आयोजन के मेंटर, डॉ. प्रतिम सेनगुप्ता (एमडी, इंटरनल मेडिसिन और डीएम, नेफ्रोलॉजी) ने कहा, “योग भारत की प्राचीन परंपरा का एक अमूल्य उपहार है। यह मन और शरीर की एकाग्रता, विचार और क्रिया, संयम और एकता का प्रतीक है। योग के जरिए मनुष्य और प्रकृति के बीच सामंजस्य स्थापित होता है। यह स्वास्थ्य और कल्याण के लिए एक समग्र दृष्टिकोण है। योग आपकी जीवन शैली को बदलकर और चेतना पैदा करके आपके शारीरिक कल्याण में मदद करता है। हमे खुद को स्वस्थ और निरोग रखने के लिए अपने दैनिक जीवन में योग को अपनाने की दिशा में कदम बढ़ाने की जरूरत है।
योग के महत्व को बताते हुए मंत्रा लाइफस्टाइल हेल्थ क्लब के संस्थापक और निदेशक, शुभव्रत भट्टाचार्य ने कहा, “नियमित योग अभ्यास मन को शांत रखता है। यह शरीर में पुराने तनाव से राहत देता है। गोल्डन ट्यूलिप होटल के निदेशक आशीष मित्तल ने कहा, “आप हमेशा यह नियंत्रित नहीं कर सकते कि बाहर क्या हो रहा है। लेकिन आप हमेशा अपने अंदर के बदलाव को नियंत्रित कर सकते हैं। योग स्वयं की यात्रा है, स्वयं के माध्यम से, स्वयं को निरोग रखने का सबसे आसान जरिया है।

प्रतिभागियों को प्रोत्साहित करने के लिए, डॉ. प्रतिम सेनगुप्ता ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर योग की एकीकृत शक्ति, इसके अपार लाभों पर प्रकाश डाला। उन्होंने यह कहते हुए कार्यक्रम का समापन किया कि योग एक प्रकाश है, जो एक बार जला देने पर कभी कम नहीं होता। आपका अभ्यास जितना बेहतर होगा, आपकी लौ उतनी ही तेज होगी।

इस कार्यक्रम में आयोजकों द्वारा लोगो द्वारा रक्त परीक्षण करने पर 25% की छूट प्रदान करने की घोषणा की गयी। पीएफटी, ब्लड शुगर, ईसीजी के लिए रियायती मूल्य और अतिरिक्त ऑफर के रूप में पूरे शरीर की स्वास्थ्य जांच करने पर 50% की छूट देने की घोषणा भी की गयी।

Previous articleचमत्कार अभिनेता नहीं, चमत्कार हमेशा कहानियाँ करती हैं – पंकज त्रिपाठी
Next articleस्वास्थ्य और त्वचा के लिए फायदेमंद है योग
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven − two =