15 अगस्त

0
49

बब्बन भक्त

तिरंगा उन्मुक्त होकर लहराया,
राष्ट्र गान की बजी है साज।
अमर शहीदों को नमन हमारा,
जिसने उखाड़ा अंग्रेजी राज।
इंग्लिश सत्ता कांप गई थी,
जब गरजी इन्क्लाबियों की‌ आवाज।
लहू बहाया, तिरंगा फहराया,
है नमन समर्पित उनको आज।
चूम लिया फांसी का फंदा,
बिना लिए गरदन का मोल।
रूक गया पहिया, शासन के इतिहास का,
बिगड़ा सत्ता का भूगोल,
जाबांजों को शत शत नमन हमारा,
ऐ राष्ट्र आज उनकी जय बोल।
आज रोमांचित यहां जन जन हैं,
उत्साहित है देश समस्त।
गांव गांव और नगर नगर में,
कस्बा कस्बा शहर शहर में,
गली गली व डगर डगर में,
पूरे मुल्क के हर घर घर में,
तिरंगे का आया है उत्सव।
पूरा देश मना रहा है,
आजादी का अमृत महोत्सव।
बच्चे बूढ़े युवा नर नारी,
देशभक्ति के जज्बे से आज हैं मस्त।
आजादी की प्लेटिनम जुबली लेकर,
आया है अपना 15 अगस्त।

Previous articleस्वाधीनता अमृत महोत्सव…शुभजिता के साथ
Next articleआओ, देश से माफी माँगें
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

thirteen + 16 =