अंतरराष्ट्रीय साहित्य सम्मेलन में काव्यपाठ ने मन मोहा

0
181

कोलकाता : दो दिवसीय तीसरा अंतरराष्ट्रीय साहित्य सम्मेलन  बुधवार को कोलकाता के शिषिर मंच में सम्पन्न हुआ। इस समारोह में देश की विभिन्न भाषाओं के साहित्यकारों के साथ-साथ अमेरिका, चेकोस्लोवाकिया, इजराइल, नेपाल, बांग्लादेश की विभिन्न भाषाओं के साहित्यकारों ने भी काव्य-पाठ व आलोचना सत्रों में भाग लिया। काव्यपाठ सत्र की अध्यक्षता सुबोध सरकार ने की। उद्घाटन भाषण गुजराती साहित्यकार डॉ.विनोद जोशी ने दिया । बांग्ला कवयित्री कृष्णा, प्रबोध बंद्योपाध्याय, असमिया के प्रदीप सैकिया, ओडिया की स्वप्ना बेहरा और डॉ.वीणापाणि देवता ने अपनी कविताओं से प्रभावित किया। हिन्दी में मृत्युंजय कुमार सिंह ने ‘नालंद के प्रति’ व डॉ.अभिज्ञात ने ‘केवल आक्सीजन की कमी से नहीं मरते हैं बच्चे’ व रोहिंग्याओं के लिए कविता ‘हाशिए की जगह’ का पाठ कर लोगों का मन मोह लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 × 3 =