आर्थिक आँकड़ों, वाहन-बिक्री, वैश्विक संकेतों से तय होगी शेयर बाजार की चाल

0
126

नयी दिल्ली : स्थानीय शेयर बाजार की चाल इस सप्ताह विनिर्माण तथा सेवा क्षेत्र की वृद्धि संबंधी पीएमआई सर्वे रपट, रिजर्व बैंक के नीतिगत निर्णयों, वाहनों की बिक्री के आंकड़ों तथा हांगकांग को लेकर चीन और अमेरिका के संबंधों में उतार-चढ़ाव से प्रभावित होगी। विश्लेषकों ने यह राय प्रकट की है। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘इस सप्ताह बाजार की चाल नवंबर महीने में वाहनों की बिक्री के आंकड़ों तथा रिजर्व बैंक की नीतिगत बैठक से तय होगी।’’ नायर के अनुसार बाजार में उत्साह का अभाव दिख सकता है।
सैमको सिक्योरिटीज एंड स्टॉकनोट के संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिमीत मोदी ने कहा कि रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति नीतिगत दरों पर निर्णय लेने के लिये इस सप्ताह बैठक करेगी। इस सप्ताह विनिर्माण तथा सेवा क्षेत्र के खरीद प्रबंध सूचकांक (पीएमआई) आंकड़े भी आने वाले हैं। शेयर बाजारों पर इनका भी असर देखने को मिल सकता है। सितंबर तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर गिरकर 4.5 प्रतिशत आ जाने की प्रतिक्रिया सोमवार को शेयर बाजार में देखने को मिल सकती है। जीडीपी के आंकड़े शुक्रवार को बाजार बंद हो जाने के बाद जारी हुए थे।
रेलिगेयर ब्रोकिंग लिमिटेड के उपाध्यक्ष (शोध) अजीत मिश्रा ने कहा, ‘‘सोमवार को शुरुआती कारोबार में बाजार जीडीपी आंकड़ों पर प्रतिक्रिया देगा। हांगकांग को लेकर अमेरिका और चीन के बीच जारी विवाद से वैश्विक बाजारों में उथल-पुथल रह सकती है।’’
येस सिक्योरिटीज के शोध प्रमुख (संस्थागत इक्विटी) अमर अंबानी ने कहा कि सितंबर तिमाही के जीडीपी आंकड़े हमारे अनुमान के अनुसार ही रहे हैं। सोमवार को भले ही इसका असर शेयर बाजारों में देखने को मिले लेकिन मध्यम अवधि में बाजार की दिशा पर इसका असर नहीं होगा।
ट्रेडिंगबेल्स के सह-संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमित गुप्ता ने कहा, ‘‘इस सप्ताह रिजर्व बैंक की नीतिगत बैठक है। इसके अलावा वाहनों की बिक्री तथा वैश्विक संकेत बाजार को प्रभावित करेंगे।’’ पिछले सप्ताह सेंसेक्स में 434.40 अंक यानी 1.07 प्रतिशत की तेजी रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nine − three =