आर एस एस के 80 से ज्यादा सरस्वती शिशु मंदिर में आइसोलेशन सेंटर बनाने की तैयारी

0
119

लखनऊ : कोरोना वायरस (COVID-19) के खिलाफ देश और प्रदेश की सरकारों के साथ कई स्वयंसेवी संगठन अपने स्तर से लोगों तक सहायता पहुंचा रहे हैं वहीं, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) भी आगे आया है. संघ की तरफ से लखनऊ के माधव सभागार में 50 बेड का आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। इसके साथ ही प्रदेश में 80 से ज्यादा सरस्वती शिशु मंदिर (Saraswati Shishu Mandir) और अन्य स्कूल-कॉलेजों को आइसोलेशन सेंटर में तब्दील करने की तैयारी है। यही नहीं, आरएसएस कम्युनिटी किचन भी स्थापित कर रहा है।

दरअसल, देश कोरोना के कारण एक बुरे दौर से गुजर रहा है। समाज के सारे लोग अपने-अपने तरीके से इसमें देश सेवा में लगे हुए हैं। इसी में देश के सबसे बड़े संगठन में से एक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ भी कोरोना की महामारी से लड़ने के लिए सामने आ गया है। संघ के स्कूलों को क्वॉरेंटाइन सेंटर और आइसोलेशन वार्ड के रूप में तब्दील किया जा रहा है। प्रदेश के 80 से ज़्यादा सरस्वती शिशु मंदिर और अन्य चल रहे संगठनों के स्कूल-कॉलेजों को आइसोलेशन सेंटर में तब्दील करने की मंज़ूरी दी गयी है। यही नहीं संघ की तरफ़ से 2 कम्यूनिटी किचन भी तैयार करवाया गया हैं, जिसके ज़रिए हर रोज़ हज़ारों बेसहारा लोगों का पेट भरा जाएगा।

केजीएमयू और लोहिया के 40 डॉक्टर देंगे सेवा
लखनऊ के माधव सभागार पर एंबुलेंस की गाड़ियां और कम्युनिटी किचन की व्यवस्था की गयी है, जिससे जो भी लोग कोरोना से प्रभावित हैं, उन्हें जल्द से जल्द आइसोलेट किया जा सके। इन सेंटर पर मात्र सैनिटाइजर बेड कम्युनिटी किचन के साथ-साथ ट्रांसपोर्टेशन की भी व्यवस्था है। इन आइसालेशन सेंटरों पर डॉक्टरों की भी टीम चौबीसों घंटे काम करेगी। इसके लिए मेडिकल कॉलेज और लोहिया के क़रीब 40 डाॅक्टर समय-समय पर यहां आइसोलेट होने वाले मरीज़ों का इलाज करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen + eight =