इश्किया गजानन मंदिर, जहाँ हर प्रेमी जोड़ा माँगता है मुरादें

0
215

द न्यूयॉर्क टाइम्स ने अलग-अलग मापदंडों और पर्यटन के लिहाज से विश्व के जिन 52 श्रेष्ठ पर्यटन स्थलों की सूची जारी की है, उनमें भारत के जोधपुर शहर को 15वां स्थान मिला है। वैसे तो जोधपुर शहर कपल्स के बकेट लिस्ट में हमेशा शामिल होता है। और हो भी क्यों न आखिर इतना खूबसूरत शहर जो है। इस शहर का अंदाज ही रूमानी है। जोधपुर शहर के परकोटे में स्थित गणेश जी का मंदिर भी प्रेमी जोड़ों के लिए काफी महत्वपूर्ण हैं। यहां कई जोड़े अपनी शादी की मुराद लेकर आते हैं तभी तो स्थानीय लोग इसे इश्किया गजानन का मंदिर कहते हैं।
प्यार करने वाले लोगों के लिए गणेश जी क्यूपिड का रोल अदा करते हैं। इस मंदिर की यह मान्यता है कि मन्नत मांगने पर रिश्ता बहुत जल्द तय हो जाता है और प्यार करने वालों की मुराद पूरी हो जाती है। यहां आने वाले सभी जोड़ों की यही मुराद होती है कि उनके चाहने से उनकी शादी हो जाए। इसी वजह से गणेश जी को इश्किया गजानन कहा जाता है।
इस नाम से पहले गणेश जी के इस मंदिर को गुरु गणपति के नाम से जाना जाता था। स्थानीय लोगों की माने तो शादी से पहले प्रेमी जोड़ा पहली मुलाकात के लिए इस मंदिर में आया करते थे।
दरअसल, इस मंदिर का इस तरह निर्माण किया गया है कि इसके आगे खड़े लोग दूर से किसी को आसानी से नजर नहीं आते थे। इस कारण यहां प्रत्येक बुधवार को प्रेमी युगलों का जमावड़ा लगा रहता है। कपल्स के मिलने का प्रमुख स्थान होने के चलते भी इस मंदिर का नाम इश्किया गजानन मंदिर पड़ गया। आजकल के युवा भी इस मंदिर में अपनी मुराद लेकर आते हैं। समय बदलने के बावजूद प्रेमी जोड़ों की श्रद्धा बरकरार है। जयपुर घूमने आने वाले पर्यटकों के बीच बेहद लोकप्रिय है।
(साभार – अमर उजाला)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × 5 =