एक नवम्बर से ऑथेंटिकेशन कोड सिस्टम से मिलेगी रसोई गैस

0
154

नयी दिल्ली :  रसोई गैस सिलेंडर लेने के लिए अब ओटीपी की जरूरत पड़ेगी क्योंकि 1 नवम्बर से नियम बदल रहे हैं। नये नियम के अनुसार अब किसी भी उपभोक्ता को एलपीजी सिलेंडर बिना ओटीपी के नहीं मिलेगा। होम डिलिवरी के समय आपको वो कोड डिलिवरी ब्वॉय को देना पड़ेगा, उस ओटीपी या कोड के बिना अब गैस की होम डिलिवरी नहीं होगी। सूत्रों के हवाले से ऐसी जानकारी मिल रही है कि तेल कंपनियों ने इस नये नियम को लागू करने की पूरी तैयारी कर ली है। इस कोड बेस्ड डिलिवरी सिस्टम का उद्देश्य गैस की हेराफेरी को रोकना है। ओटीपी नियम लागू हो जाने से गैस की चोरी रोकी जा सकेगी। तेल कंपनियों ने इस कोड बेस्ड सिस्टम को डिलीवरी ऑथेंटिकेशन कोड नाम दिया है।
सौ स्मार्ट शहरों में होगा लागू
जानकारी के मुताबिक डिलीवरी ऑथेंटिकेशन कोड सिस्टम अभी सिर्फ सौ स्मार्ट शहरों में लागू होगा। बताया जा रहा है कि इस सिस्टम का पायलट प्रोजेक्ट पहले से ही जयपुर में जारी है और इसके अच्छे परिणाम देखने को मिल रहे हैं जिसके बाद इसे दूसरे शहरों में भी लागू करने की योजना पर काम हो रहा है।
रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजा जायेगा कोड
नये सिस्टम में उपभोक्ता जब गैस की बुकिंग करेगा तो उसके रजिस्टर्ड मोबाइल नम्बर पर कोड भेजा जायेगा, जिसे डिलिवरी के वक्त उसे डिलिवरी ब्वॉय को देना पड़ेगा अन्यथा गैस की डिलिवरी नहीं होगी. ऐसे में यह जरूरी है कि अगर आपका मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड नहीं है, तो उसे जल्दी से अपडेट करा दें अन्यथा एक नवम्बर से आपको गैस लेने में परेशानी हो सकती है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eighteen − fifteen =