एमसीसीआई एचआर कॉन्क्लेव 2022 सम्पन्न

0
19

कोलकाता । मर्चेंट्स चेम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री द्वारा हाल ही में एमसीसीआई एचआर कॉन्क्लेव 2022 आयोजित किया गया । इस कन्क्लेव में मुख्य अतिथि के रूप में बामर लॉरी एंड कम्पनी के अध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक अदिक रत्न शेखर ने आयोजित किया । उन्होंने कहा कि अगले 5 वर्षों में, 50 प्रतिशत कर्मचारियों को सक्रिय शिक्षा के माध्यम से फिर से कौशल की आवश्यकता होगी। भविष्य एआई, एओटी, रोबोटिक्स और बिग डेटा मैनेजमेंट नाम की तकनीक से संचालित होगा। इन तकनीकों को अपनाने के लिए, संगठन को अधिक लचीला और अनुकूलनीय होना चाहिए। संगठन को अस्तित्व में रहने और व्यवसाय में बने रहने के लिए परिवर्तन को अपनाने की आवश्यकता है। शेखर ने आगे कहा कि आगे चलकर लोगों से जुड़ाव महत्वपूर्ण होता जाएगा।  नेतृत्व को टीम से जुड़ने और बात पर चलने की जरूरत है।

एमसीसीआई की दिवासी मीट में एक्चेंसर के एम डी सप्तर्षि देव, पश्चिम बंगाल की सीपीएमजी जे. चारुकेसी, कौंसुलेट ऑफ ऑस्ट्रेलिया की सीजी रॉ़वेन एन्सवर्थ, राज्य के कृषिमंत्री शोभनदेव चट्टोपाध्याय, नॉन कन्वेंशनल एवं रिन्यूएबल एनर्जी सोर्सेज, मंत्री ज्योतिप्रिय मलिक, डब्ल्यूबीआईआईडीसी बैंक के चेयरमैन राजीव सिन्हा, ब्रिटिश डिप्टी हाई कमीशन के डिप्टी हाई कमश्निर निक लॉ, हावड़ा के पुलिस कमिश्नर प्रवीण त्रिपाठी, एमसीसीआई के अध्यक्ष ऋषभ कोठारी एवं सीनियर वाइस प्रेसिडेंट ललित बेरीवाला

वेसुवियस, साउथ एशिया के एच आर निदेशक राजीव चालना ने कहा कि 85 प्रतिशत कर्मचारी समय के साथ नहीं बदलते हैं, वे अगले 10 वर्षों तक कहीं नहीं रहेंगे इसलिए भविष्य के लिए सांगठनिक तैयारी की जरूरत है । उन्होंने सुझाव दिया कि नेताओं को गुणवत्ता उत्पादकता के साथ-साथ कर्मचारियों की व्यस्तता को बड़े पैमाने पर सुनिश्चित करने की आवश्यकता है। किसी संगठन को भविष्य के लिए तैयार करने के लिए, री-स्केलिंग और रीशेपिंग महत्वपूर्ण है।

स्पील्स एच आर वर्क्स के एम डी नदीम काजिम ने कहा कि संस्थान को भविष्य के लिए तैयार रहना चाहिए । एच आर को सतत् प्रगति पर जोर देना चाहिए । एवरेडी इंडस्ट्रीज इंडिया के सीएचआरओ संदीप बनर्जी ने संस्थानों को लचीला होने पर जोर देते हुए कहा कि आज कम्पनियाँ प्रतिभाओं को बेहतर भुगतान देने के लिए तैयार हैं । स्वागत भाषण एमसीसीआई की एग्रीकल्चर काउंसिल के चेयरमैन एवं कमेटी सदस्य सुरेश अग्रवाल ने दिया। कन्क्लेव में उद्योग जगत के विभिन्न विषयों पर चर्चा हुई।

 

 

 

Previous articleपीसी चंद्रा ग्रुप का 9वां जहर लाल चंद्र मेरिट स्कॉलरशिप प्रोग्राम
Next articleयुवाओं के सपने भविष्य हैं : एड गुरु प्रह्लाद कक्कड़
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × 2 =