कहर ए कोरोना : बिन बुलाये बेमियादी बंद के बीच चल रही है जंग

0
50

शहर के शहर बगैर हड़ताल के ही बंद हैं। छुट्टियाँ हो गयी हैं मगर इस बार सब घर में हैं…गर्मियों ने तो कदम भर रखा है मगर गर्मियों के पहले ही शिक्षण संस्थान बंद हो चुके हैं। भारत में आँकड़ा 100 के पार हो चुका है मगर कोरोना को लेकर अफरा -तफरी है तो उसके खिलाफ जंग भी जारी है। एहतियातन शिक्षण संस्थान और पर्यटन स्थल बंद हो रहे हैं। हवाई अड्डों पर हर एक यात्री की जाँच हो रही है और 15 अप्रैल तक हर गतिविधि टाल दी गयी है। सिनेमाघर से लेकर मल्टीप्लेक्स तक, सब खाली हो रहे हैं। इस वर्ष का आईपीएल भी अभी नहीं होगा।

इस वर्ष का गोइन्का पुरस्कार समारोह निरस्त
कमला गोइन्का फाउण्डेशन के प्रबंध न्यासी श्री श्यामसुन्दर गोइन्का ने बताया है कि इस वर्ष बेंगलुरू में आयोजित पुरस्कार व सम्मान समारोह “कोरोना वायरस” को मद्दे नजर रखते हुए व भारत सरकार की तरफ से जारी विज्ञप्ति को आधार मान कर व जन-हित के लिए रद्द किया जा रहा है। विज्ञप्ति द्वारा यह भी सूचित किया है कि उपरोक्त सभी पुरस्कृत साहित्यकारों को नगद राशि के संग प्रदत्त प्रतीक चिन्ह व अन्य सम्मान्य सामग्री समारोह में न देकर अब उन्हें कुरियर द्वारा भिजवायी जायेगी।

शिक्षण संस्थानों में कक्षाएँ स्थगित
देश भर के कई राज्यों में शिक्षण संस्थान 31 मार्च तक बंद रहेंगे और कई राज्यों में यह तिथि बढ़ाई भी जा सकती है। पश्चिम बंगाल में न सिर्फ शिक्षण संस्थान बंद हुए बल्कि निगम चुनाव भी फिलहाल नहीं होने जा रहे हैं।  कोरोना वायरस से उत्पन्न संकट को देखते हुए पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा जारी निर्देश के आलोक में महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा के क्षेत्रीय केंद्र, कोलकाता में 16 मार्च से 31 मार्च तक के लिए कक्षाएँ स्थगित कर दी गई हैं। केंद्र के प्रभारी डॉ सुनील कुमार ‘सुमन’ ने बताया कि विश्वविद्यालय के माननीय कुलपति के अनुमोदन से कुलसचिव ने इस आशय का एक कार्यालय आदेश कोलकाता केंद्र के लिए जारी किया है। इस दौरान केंद्र कार्यालय पूर्ववत खुला रहेगा।
जरूरी है कि हम सजग रहें, सावधान रहें और बगैर आतंकित हुए स्थिति का सामना करें तो हालात शीघ्र ही नियंत्रण में लाये जा सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen + seventeen =