कोरोना योद्धा : पंकज प्रसून की मुहिम से जुड़े सोनू सूद, मालिनी अवस्थी और कुमार विश्वास

0
207

राशन और ऑक्सीजन कंसंट्रेटर से लेकर कोविड सेंटर की व्यवस्था की
रायबरेली के कवि पंकज प्रसून ने अपने पैतृक गांव सहजौरा समेत 8 ग्राम पंचायतों में ‘आओ गांव बचाएं’ मुहिम की शुरुआत की है और इस मुहिम से बड़ी हस्तियाँ जुड़ गयी हैं। उत्तर प्रदेश के 33 गांवों की कमान अब मशहूर कवि कुमार विश्वास, फिल्म स्टार सोनू सूद और लोक गायिका मालिनी अवस्थी
पिछले एक महीने के अंदर इन तीनों हस्तियों ने रायबरेली और सुल्तानपुर के 33 गाँवों तक लोगों को मदद पहुंचाई है। लोगों को मुफ्त में दवाइयां और जांच की सुविधा दी जा रही है। कुमार विश्वास ने 8 गांवों में विश्वास कोविड केयर सेंटर भी खोले हैं। इन सेंटर्स में हल्के लक्षण वाले कोरोना मरीजों का इलाज किया जा रहा है।
रायबरेली की 8 ग्राम पंचायतों में कवियों की फौज जुटी
रायबरेली के कवि पंकज प्रसून ने अपने पैतृक गांव सहजौरा समेत 8 ग्राम पंचायतों में ‘आओ गांव बचाएं’ मुहिम की शुरुआत की है। इसी के तहत कवि कुमार विश्वास भी जुड़े और उन्होंने 8 गांवों में विश्वास कोविड केयर सेंटर की स्थापना करवाई। पंकज प्रसून ने बताया कि इस अभियान में अभिनेता सोनू सूद और लोक गायिका मालिनी अवस्थी भी जुड़े गए हैं। इन लोगों की मदद से 4 ग्राम पंचायतों के 30 गांवों को कोरोना की मुफ्त दवाइयां, राशन किट और ऑक्सीजन कंसंट्रेटर पहुंचाया गया।
डॉक्टरों से परामर्श दिला रहे
कवि पंकज प्रसून ने बताया कि विश्वास कोविड केयर सेंटर्स पर पहुंचने वाले मरीजों को डॉक्टर पद्मश्री ज्ञान चतुर्वेदी, पीजीआई के डॉक्टर ज्ञान चन्द्र, राजीव दीक्षित अस्पताल के डॉ. दीना नाथ पटेल, एनबीआरआई के डॉ. संजीव ओझा हमेशा मॉनिटर करते हैं। वीडियो कॉल और फोन कॉल के जरिए मरीजों को परामर्श दिया जाता है। उन्हीं के प्रिस्किप्शन के अनुसार मरीजों को दवा दी जाती है।
सुल्तानपुर के 3 गाँवों में खुले केंद्र
कुमार विश्वास की टीम ने सुल्तानपुर के कई गांवों में भी कोविड किट पहुंचाई है। यहां तीन गांवों में विश्वास कोविड केयर सेंटर बनाया गया है। इन सेंटर्स पर हल्के लक्षण वाले मरीजों को दवा दी जा रही है। इसके अलावा ग्रामीणों को कोविड केयर किट भी दी जा रही है। इस किट में दवा, मेडिकल उपकरण होते हैं।

Previous articleस्वतन्त्रता के लिए प्राण उत्सर्ग करने वाले शहीद सआदत खां
Next articleस्वातंत्र्यवीर सावरकर
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × four =