कोरोना वायरस पर मेरठ की चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी कराएगी डिप्लोमा कोर्स

0
51

एक तरफ देशभर में कोरोना को लेकर दहशत का माहौल है, तो वहीं दूसरी ओर उत्तर प्रदेश के मेरठ की एक यूनिवर्सिटी सार्स-कोव 2 पर एक डिप्लोमा कोर्स शुरू करने क योजना बना रही हैं। मेरठ स्थित चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी अपने डिजास्टर मैनेजमेंट प्रोग्राम के तहत सार्स-कोव 2 पर एक साल का डिप्लोमा कोर्स शुरू कर सकती है। इस बारे में यूनिवर्सिटी के वीसी एन के तनेजा ने जानकारी दी।
इसके अलावा यूनिवर्सिटी पहले से ही चल रहे तीन साइंस कोर्सेस में भी कोरोना वायरस की पढ़ाई को शामिल कर सकती है। वीसी के मुताबिक मौजूदा हालात में यह स्टडी काफी उपयोगी साबित होगी। यह कोर्स अगले दो महीने के अंदर शुरू किया जा सकता है, जिसके लिए इजाजत भी मिल चुकी है। इसके बाद अब इस कोर्स को आगे मंजूरी दिलाने के लिए यूनिवर्सिटी एकेडेमिक काउंसिल के सामने रखा जाएगा। इसे दो सेमेस्टर में बांटा जाएगा। पहले सेमेस्टर को बाढ़, भूस्सखलन आदि के साथ पढ़ाया जाएगा,जबकि दूसरे सेमेस्टर में इसे जूलॉजी और बायोलॉजी के डिपार्टमेंट में शामिल किया जाएगा। फिलहाल कोर्स की कोई फीस तय नहीं की गई है।
संक्रमण की बात करें तो देश में अब तक 19 राज्य को 177 लोग इसकी चपेट में आ चुके है। वहीं, एहतियातन कई राज्यों के सभी स्कूल-कॉलेज भी बंद किए जा चुके है। इससे पहले बुधवार को मानव संसाधन विकास मंत्रालय के सभी परीक्षा रद्द करने के आदेश के बाद सीबीएसई, आईसीएसई और एनटीए ने 31 मार्च तक अपनी सभी परीक्षा रद्द कर दी है। उत्तर प्रदेश में भी सभी प्रतियोगी परीक्षा 02 अप्रैल तक रद्द कर दी है। देश में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ रहे मामलों के देखते हुए मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए सभी शिक्षा नियामकों और सीबीएसई को सभी परीक्षाओं को रद्द करने और पेपर के मूल्यांकन को रोकने का निर्देश जारी किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty − 18 =