कोविड -19 वैक्सीन आपूर्ति : साथ आये आरडीआईएफ और स्टेलिस बायोफर्मा

0
253

कोलकाता : कोविड -19 की वैक्सीन आपूर्ति को लेकर आरडीआईएफ और स्टेलिस बायोफर्मा ने हाथ मिलाया है और दोनों स्पूतनिक वैक्सीन की 200 मिलियन खुराकों की आपूर्ति करेंगे। आरडीआईएफ (द रशियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड) रुस का वेल्थ फंड यानी धन कोष है जबकि स्टेलिस भारतीय कम्पनी स्ट्राइड्स का बायोफर्मास्यूटिकल शाखा है। दोनों ही कम्पनियों के बीच यह समझौता भारत में स्पूतनिक वी वैक्सीन की आपूर्ति को लेकर हुआ है। गौरतलब है कि स्पूतनिक वी कोरोना के इलाज के लिए उपयोग में लायी जाने वाली विश्व की पहली पंजीकृत वैक्सीन है जिसे 50 देशों में मान्यता मिल चुकी है। यह दो खुराकों वाली वैक्सीन है जो दो भिन्न मानव एडेनोवायरल वैक्टर टीकाकरण के दौरान इस्तेमाल करती है। एक अध्यनन के मुताबिक इस वैक्सीन की क्षमता दर 91.6 प्रतिशत बतायी जा रही है। दोनों ही पक्षों ने 2021 की तीसरी तिमाही से वैक्सीन की आपूर्ति पर सहमति जतायी है। रशियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड की सीईओ किरिल डिमिट्राइव के मुताबिक वैक्सीन का वैश्विक प्रसार स्टेलिस के साथ होगा। स्ट्राइड्स समूह के संस्थापक अरुण कुमार ने समझौते पर खुशी जतायी।

 

Previous articleनॉर्ड एंजेलिया एडुकेशन ने किया 3 और स्कूलों का अधिग्रहण
Next articleसख्त प्रोटोकॉल से ही सम्भव है कोविड -19 को रोक पाना : ऐसोचेम
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eight + thirteen =