क्रिसमस से पहले खुलेगा सांतरागाछी पुल

0
40
कोलकाता/हावड़ा। सांतरागाछी पुल क्रिसमस से पहले ही खुल जाएगा। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के निर्देश से बड़े दिन से पहले सांतरागाछी पुल खुलेगा। नवान्न की ओर से निर्देश दिया गया कि 25 दिसंबर से पहले काम पूरा कर लिया जाए। क्रिसमस की शुरुआत से ही आम लोग उत्सव के मिजाज में आ जाते हैं इसलिए 31 दिसम्बर तक बंद रहने वाला सांतरागाछी पुल एक सप्ताह पहले ही खुलने जा रहा है। नवान्न ने जिला प्रशासन और संबंधित विभाग को काम जल्द पूरा करने का निर्देश दिया है। वर्तमान में सांंतरागाछी पुल की मरम्मत एक लेन की मरम्मत पूरी हो गया है और दूसरे लेन में भी आधा से अधिक काम पूरा हो गया है। पुल की हालत खराब हो गई थी इसलिए इसमें त्वरित सुधार की जरूरत थी। 19 नवंबर से यातायात को नियंत्रित कर पुल के 40 एक्सपेंशन ज्वाइंट लगाने का कार्य शुरू किया गया था। फिलहाल रात के समय आवागमन पूरी तरह बंद रहता है। मालवाहक वाहनों को इसपर से गुजरने पर प्रतिबंध लगाया गया। लोक निर्माण विभाग 31 दिसंबर तक पुल की मरम्मत करेगा। जरूरत पडऩे पर समय सीमा बढ़ाई जा सकती है। लेकिन मुख्यमंत्री की इच्छा से तय समय से पहले मरम्मत पूरी होने के बाद सांतरागाछी पुल को खोल दिया जाएगा। मामले को लेकर राज्य के लोक निर्माण विभाग मंत्री पुलक राय ने कहा कि सर्दी के मौसम में लोग छुट्टी के मूड में होते हैं। पर्यटक आते हैं। इसलिए मुख्यमंत्री ने कहा है कि इस दौरान किसी को परेशानी न हो इसलिए क्रिसमस 2022 से पहले शहर के इस महत्वपूर्ण पुल को खोल दिया जाएगा। लोक निर्माण विभाग की ओर से युद्ध स्तर पर पुल की मरम्मत कार्य जारी है। निर्माण विभाग के सूत्रों के मुताबिक क्रिसमस से पहले इसे पूरा कर लिया जाएगा। उल्लेखनीय है कि 19 नवंबर की सुबह सांतरागाछी पुल की मरम्मत का काम शुरू हुआ। हावड़ा के पुलिस आयुक्त प्रवीण कुमार त्रिपाठी, डीसीपी ट्रैफिक अर्नव विश्वास और शहर पुलिस के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने सांतरागाछी पुल का दौरा किया। इसकी वजह से होने वाले जाम से बचने के लिए वाहनों के वैकल्पिक इंतजाम किए गए हैं इस ब्रिज से प्रतिदिन करीब 70 हजार वाहन गुजरते हैं। इस सांतरागाछी पुल से एक दिन में करीब 12,000 मालवाहक वाहन गुजरते हैं। इसके चलते यात्रियों में परेशानी हो रही है। पुल के पूरी तरह से चालू हो जाने के बाद, उस समस्या का अधिकांश समाधान होने की उम्मीद है।
Previous articleमेडिक्लेम: न अटकेगा, न लटकेगा, बस इन बातों का रखना होगा ध्यान
Next articleचार वर्ष का होगा स्नातक पाठ्यक्रम, दो श्रेणियों में होगी ऑनर्स की डिग्री
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 − 15 =