गीता दी बताएंगी

0
153

संवाद हमारे समय की जरूरत है..कई बार हम उलझन में रहते हैं, दोराहे पर रहते हैं और हमारी समझ में नहीं आता कि क्या किया जाए, तब कोई आकर हमें राह दिखा जाता है तो मुश्किल और जिन्दगी, दोनों आसान हो जाती हैं। अगर आप भी कुछ पूछना चाहते हैं तो हमें नीचे कमेन्ट्स बॉक्स में, फेस बुक पेज पर या ई मेल के माध्यम से पूछ सकते हैं। यह पहल विशेष रूप से महिलाओं और युवाओं को ध्यान में रखकर आरम्भ की गयी है। तो आपकी उलझन और परेशानियों का हल गीता दी बताएंगी भी किसी उलझन में हैं तो अपने सवाल हमें लिख भेजें।

आज का सवाल 

प्र.  बी.एड के बाद एम. एड. करना सही रहता है या पी.एच.डी? – रेशमी सेन शर्मा

उ. बी एड के बाद एम एड करना सही रहेगा। आप जिस दिशा में चलना प्रारंभ करते हैं, उसी दिशा में आगे बढ़ना आपके लिए अच्छा रहेगा। दिशा तभी बदले जब आपको उसमें कोई संभावना दिखाई दे रही हो। सामान्यतः विद्यालय में पढ़ाने के लिए बी एड की डिग्री ली जाती है और बी एड का अगला कदम एम एड हो सकता है।
हां एम एड के बाद पी एच डी की जा सकती है लेकिन उसके बाद महाविद्यालय में अध्यापन के बारे में सोचना चाहिए।

 

अपने प्रश्न भेजें – info@shubhjita.com

 

Previous articleप्रेम कुमार को प्रदान की गई डॉक्टरेट उपाधि
Next articleसावित्री गर्ल्स कॉलेज में मानसिक स्वास्थ्य पर वेबिनार
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × four =