छत्तीसगढ़ के कुम्हार ने बनाया 24 घंटे तक लगातार जलने वाला दीया

0
277

बस्तर : दिवाली आने में कुछ ही दिन बाकी रह गए हैं।आजकल एक ऐसे दीये की चर्चा हो रही है जो पूरा दिन जल सकता है। छत्तीसगढ़ के एक कुम्हार ने मिट्टी का एक ऐसा दीपक डिज़ाइन किया है, जो पूरे दिन जल सकता है। द बेटर इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, बस्तर ज़िले के कोंडागांव नाम के एक छोटे से गाँव में रहने वाले अशोक चक्रधारी के पास दीयों के ऑर्डर्स की भरमार है।
चक्रधारी के दीयों में में तेल का प्रवाह अपने आप होता है. इन दीयों का नाम ‘मैजिक लैंप’ यानी जादुई दीया है। यू ट्यूब पर एक वीडियो देखने के बाद एक दीये को घंटों तक जलाए रखने के बारे में चक्रधारी ने सोचा. उन्होंने कहा, “मैं हमेशा नए विचारों की तलाश में रहता हूं, जो मेरे हुनर को चुनौती दे और मेरे आसपास के लोगों के लिए एक उपयोगी आविष्कार हो।” 62 वर्षीय चक्रधारी ने कहा, “2019 में, दिवाली से पहले मैं दीयों को तराशने के लिए एक नए डिज़ाइन की तलाश में था। तभी मैंने एक दीया देखा, जिस पर तेल भरा रहता है ताकि दीया जलना बंद न हो। मुझे ये अच्छा लगा और मैंने इसे बनाने का फ़ैसला किया।”
उन्होंने समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कहा कि मिट्टी के दीपक बनाने की तकनीक कई ऑनलाइन वीडियो के बाद बनाया. वह कहते हैं, “मैंने ऑनलाइन कई तकनीक सीख कर इस दीए को बनाना सीख लिया है मुझे ऐसे और अधिक दीए बनाने के लिए अच्छी संख्या में ऑर्डर मिले हैं।”

Previous articleनयी प्रतिभाओं को मौका देगा मोजोप्लेक्स ओटीटी प्लेटफॉर्म
Next articleमशहूर उद्योगपति रतन टाटा ने किया हेल्थकेयर स्टार्ट अप आई क्योर में निवेश
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × four =