डिजिटल शिक्षा के क्षेत्र में प्रैक्सिस बिजनेस स्कूल ने पूरे किए 16 वर्ष

0
44

कोलकाता । प्रैक्सिस बिजनेस स्कूल ने कोलकाता परिसर में शिक्षकों और छात्रों के साथ अपना 16वां स्थापना दिवस मनाया। इस कार्यक्रम का उद्घाटन प्रैक्सिस बिजनेस स्कूल फाउंडेशन के अध्यक्ष बोर्ड ऑफ गवर्नर्स कमलेश संजनानी के स्वागत भाषण से हुआ। उन्होंने कहा, “प्रैक्सिस की सफलता की कहानी इसके सभी वर्तमान और पूर्व शिक्षकों, कर्मचारियों और पूर्व छात्रों के अथक प्रयासों के बिना संभव नहीं होती, जो विभिन्न क्षमताओं में शामिल थे और इसे देश के सर्वश्रेष्ठ बिजनेस स्कूलों में से एक बनाने के लिए अथक प्रयास करते थे। . यहां से हम केवल और ही ऊपर जा सकते हैं।”
प्रैक्सिस की 15 साल की यात्रा के महत्वपूर्ण क्षणों को एक वीडियो प्रस्तुति के माध्यम से दिखाया गया। प्रैक्सिस बिजनेस स्कूल के निदेशक डॉ. प्रो पृथ्वी मुखर्जी ने कहा कि “संस्थान ने गतिशील नेताओं को बनाने के लिए उत्प्रेरक के रूप में खुद के लिए एक जगह बनाई है। इसलिए, हमारे छात्र जीविकोपार्जन नहीं करते, वे जीवन बनाते हैं।” कार्यक्रम में सांस्कृतिक प्रस्तुतियाँ भी हुईं।
प्रैक्सिस बिजनेस स्कूल फाउंडेशन के सह-संस्थापक और निदेशक प्रो. चरणप्रीत सिंह ने अपनी स्मृतियाँ साझा करते हुए भावी योजनाओं पर प्रकाश डाला। प्रैक्सिस स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में कला प्रतियोगिता आयोजित की गई थी, और प्रस्तुत प्रविष्टियों का निर्णय प्रसिद्ध वर्षा बागची द्वारा किया गया था। दीर्घ समय तक संस्थान को अपनी सेवा देने वाले कर्मचारी सम्मानित किये गये। इस अवसर पर संस्थान के मासिक समाचार पत्र प्रैक्सिस प्रिज्म का लोकार्पण किया गया। ‘चेंज इनिशिएटिव’ के संस्थापक एवं प्रैक्सिस की सहयोगी संस्था झुम्पा घोष एवं सूर्यतीर्थ घोष ने विचार रखे। इस अवसर पर वृक्षारोपण भी किया गया।
संस्थान द्वारा प्रदत्त जानकारी के अनुसार 2007 में गठित प्रैक्सिस बिजनेस स्कूल, 2012 में डेटा साइंस में पूर्णकालिक स्नातकोत्तर कार्यक्रम की पेशकश करने वाला पहला बी-स्कूल था। हाल ही में एनालिटिक्स इंडिया मैगज़ीन रैंकिंग 2021 द्वारा देश में नंबर एक स्थान दिया गया था। प्रमुख पीजी डिप्लोमा इन मैनेजमेंट (पीजीडीएम) पाठ्यक्रम अभी भी पूर्वी क्षेत्र में सबसे अधिक मांग वाला है, वर्तमान में कोलकाता में नंबर 2 और नंबर 4 पर है। पूर्वी भारत में।

Previous articleएक सलामी उन वीरों को
Next articleडी पी एस मेगासिटी में बच्चों के साथ ‘रक्षाबंधन’ लेकर पहुँचे अक्षय कुमार 
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × 1 =