दिवाली पर खूब मिठाई खाई, बढ़ गया 32 फीसदी भारतीयों का 1.5 किलोग्राम वजन

0
17

काजू कतली और गुलाब जामुन की सबसे ज्यादा हुई खपत

नयी दिल्ली । मिठाई खाकर लोगों का वजन बढ़ गया है। हेल्थीफाई मी द्वारा जारी एक रिपोर्ट के अनुसार दिवाली वाले हफ्ते के दौरान 22 से 27 अक्टूबर के बीच भारत में चीनी की कुल खपत में 32 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई, जो साल 2022 के लिए अब तक का सबसे उच्च स्तर है, जिसकी वजह से हर उपभोक्ता का औसतन 1.5 किलोग्राम वजन बढ़ा है । इसके साथ ही रिपोर्ट के मुताबिक भारतीयों के वर्कआउट में 32 प्रतिशत की भारी गिरावट दर्ज की गई है ।
हेल्थीफाई मी की चीफ बिजनेस ऑफिसर अंजन भोजराजन ने कहा, “कोविड के दो साल बाद लोगों ने इस साल पूरे उत्साह के साथ दिवाली मनाई और अकेले एक हफ्ते में औसतन अपना 1.5 किलो वजन बढ़ाया! हालांकि, यह देखना अच्छा है कि बहुत से लोगों ने वापस आकार में आने के लिए मेहनत शुरू कर दी – और 10 दिनों में ज्यादातर ने अपना बढ़ा हुआ वजन कम कर लिया ।”
रिपोर्ट के अनुसार काजू कतली और गुलाब जामुन ऐसी भारतीय मिठाइयां हैं, जो हेल्थीफाई मी ऐप के हिसाब से दिवाली वाले सप्ताह के दौरान मिठाई की खपत के मामले में सबसे आगे रहीं । यह मिठाई दिल्ली, बेंगलुरु, हैदराबाद, मुंबई और पुणे में सबसे ज्यादा पसंद की गयी । अध्ययन से यह भी पता चला है कि त्योहारों के दौरान पुरुषों को महिलाओं की तुलना में ज्यादा मिठाई खाने की इच्छा होती हैं । दीवाली के हफ्ते के दौरान पुरुषों में चीनी की खपत में 38 प्रतिशत की वृद्धि हुई जबकि महिलाओं में यह 25 प्रतिशत थी। एक सप्ताह में व्यायाम की कमी और ज्यादा चीनी का सेवन पुरुषों का महिलाओं की तुलना में ज्यादा वजन बढ़ने का एक मुख्य कारण था । पुरुषों का वजन औसतन 1.7 किलोग्राम बढ़ा था, वहीं दिवाली के हफ्ते के दौरान महिलाओं का वजन 1.28 किलोग्राम बढ़ा ।
पुणे शहर में चीनी की खपत सबसे अधिक
भारत के प्रमुख महानगरों में पुणे शहर में चीनी की खपत सबसे अधिक 46 प्रतिशत रही । इसके बाद हैदराबाद में 34 प्रतिशत, बेंगलुरु में 34 प्रतिशत और चेन्नई में 33 प्रतिशत की खपत हुई । मुंबई के लोग मिठाई की खाने की अपनी आदत पर काबू करने में कामयाब रहे और वहां चीनी की खपत केवल 20 प्रतिशत अधिक रही जबकि दिल्ली और कोलकाता में चीनी की खपत में क्रमशः 30 प्रतिशत और 27 प्रतिशत की वृद्धि हुई ।
कैलोरी बढ़ने के लिए सिर्फ चीनी जिम्मेदार नहीं है. मुंबई ने मीठा खाने की अपनी इच्छा पर काबू कर लिया, लेकिन लोगों के बीच खाने की कुल खपत में सबसे ज्यादा वृद्धि दर्ज की गई। दिवाली के हफ्ते के दौरान पुणे के लोगों के औसत वजन में 2.4 किलोग्राम की वृद्धि हुई। दिल्ली और हैदराबाद के लोगों ने क्रमशः 1.5 किग्रा और 1.2 किग्रा वजन बढ़ाया जबकि बेंगलुरु और चेन्नई के लोगों में दिवाली के हफ्ते के दौरान औसतन केवल 0.9 किलोग्राम वजन बढ़ा । रिपोर्ट में कहा गया है कि वजह बढ़ने के बाद अब लोगों ने इसे कम करने की कोशिश शुरू कर दी है ।

 

 

Previous articleरंगशिल्पी द्वारा जमीला नाटक का मंचन
Next articleबजट में पूंजी लाभ कर व्यवस्था में हो सकता है बदलाव
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × 1 =