दुनिया का सबसे कीमती आभूषण है निजाम का हीरे का हार

0
53

इसकी कीमत करीब 6 अरब 59 करोड़ रुपये है
हैदराबाद के निजाम ने महारानी की शादी पर दिया था यह हार

लंदन : भारत की आजादी के समय दुनिया के सबसे धनी लोगों में शामिल रहे हैदराबाद के निजाम का खजाना एकबार फिर से चर्चा में है। ब्रिटेन की महारानी के गले की शोभा बढ़ा रहा यह हीरे से बना निजाम का हार विशेषज्ञों की नजर में विश्‍व भर में शाही आभूषणों में सबसे कीमती माना गया है। विशेषज्ञों के मुताबिक इस शानदार हार की कीमत वर्तमान समय में 6 अरब 59 करोड़ रुपये है। उन्‍होंने कहा कि महारानी के खजाने में एक से बढ़कर एक आभूषण हैं लेकिन इसकी चमक के आगे सब फीके हैं।
ब्रिटिश महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने कुछ समय पहले अपनी बहू को यह हार पहनने के लिए दिया था। इसे देखकर लोगों की आंखें चौधियां गई थीं। एक्‍सप्रेस डॉट कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक महारानी को यह नेकलेस सबसे पहले साल 1947 में राजकुमार फिलीप के साथ सगाई के बाद हैदराबाद के निजाम की ओर से उपहार के रूप में मिला था। एलिजाबेथ उस समय राजकुमारी थीं और उसके 5 साल बाद वह महारानी बनी थीं।
हैदराबाद के निजाम की ओर से शादी का तोहफा
उस समय हैदराबाद पर आसफ जाह सप्‍तम का हैदराबाद पर शासन था। आसफ दुनिया के सबसे धनी लोगों में शामिल था। आभूषणों के मामलों की विशेषज्ञ डायना बोरोमन कहती हैं कि यह दुनिया की सबसे कीमती शाही आभूषण है और इसकी कीमत वर्तमान समय में करीब 6 अरब 59 करोड़ रुपये है। उन्‍होंने बताया कि राजकुमारी एलिजाबेथ को यह उनकी शादी का तोहफा हैदराबाद के निजाम की ओर से दिया गया था।
बोरोमन बताती हैं कि निजाम ने निर्देश दिया था कि राजकुमारी अपनी मर्जी से उनके संग्रह से जो भी जेवर लेना चाहें, वह ले सकती हैं। एलिजाबेथ ने इस हीरे से बने अद्भुत हार को चुना जिसे अब हैदराबाद के निजाम का नेकलेस कहा जाता है। यह हार देखने में तीन जुड़े हुए फूल की तरह से नजर आता है। महारानी को यह हार अभी भी बहुत पसंद है और वह अपनी बहू केट मिडलटन को कभी-कभी यह पहनने के लिए देती हैं।
हार में प्‍लेट‍िनम के अंदर 50 से ज्‍यादा हीरे लगाए गए
बोरोमन ने कहा कि इस हार में प्‍लेट‍िनम के अंदर 50 से ज्‍यादा हीरे लगाए गए हैं। महारानी खुद इसे कई खास मौकों पर पहन चुकी हैं। इसके अलावा महारानी जापानी मोती से बने हार को भी पहनती रही हैं। बता दें कि हैदराबाद के निजाम अपने शाही खजाने के लिए जाने जाते रहे हैं। हैदराबाद के आखिरी निजाम का खजाना आरबीआई के एक वॉल्ट में बंद है। इस खजाने को केवल दो बार ही प्रदर्शनी के लिए रखा गया है। एक बार 2001 और फिर 2006 में निजाम के आभूषणों को सालर जंग म्यूजियम में कुछ समय के लिए रखा गया था। आखिरी निजाम के वंशज हिमायत अली मिर्जा ने मांग की है कि निजाम के खजाने को रिजर्व बैंक की वॉल्ट से निकाल म्यूजियम में रखा जाए।
क्या है हैदराबाद के निजाम का खजाना ?
173 दुर्लभ आभूषण, जिनमें से कुछ 184 कैरेट के बिना कटे जैकब डायमंड हैं। इनमें से कुछ दुनिया के 5 सबसे बड़े हीरे से निकले हैं। इस खजाने को लेकर लड़ाई काफी पहले से जारी है। जैकब डायमंड निजाम के खजाने का सबसे कीमती गहना है। इसे छठवें निजाम महबूब अली खान ने शिमला के एक हीरा व्यापारी से खरीदा था। उस समय निजाम ने इसे 23 लाख में खरीदा था। अब इस कीमत 400 करोड़ रुपये के आसपास लगाई जा रही है।

(साभार – नवभारत टाइम्स)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eighteen − nine =