देश में पहली बार मालगाड़ी की पायलट से लेकर गार्ड तक सभी महिलाएं

0
139

महाराष्ट्र से गुजरात का सफर 6 घंटे में पूरा किया
भारतीय रेलवे के इतिहास में महिलाओं ने नया रिकॉर्ड कायम किया। रेलवे में पहली बार मालगाड़ी को चलाने वाली पायलट से लेकर गार्ड तक सभी महिलाएं थीं। यह मालगाड़ी महाराष्ट्र के पालघर जिले के वसई रोड़ स्टेशन से माल लेकर गुजरात के वडोदरा पहुंची। इसकी कमान महिलाओं के हाथों में थी। इसकी लोको पायलट कुमकुम एस डोंगरे ( उम्र 34 साल), सहायक लोको पायलट उदिता वर्मा (उम्र 28 साल) और गुड्स गार्ड आकांक्षा रे ( उम्र 29 साल) थीं। इस ट्रेन में पायलट से लेकर गार्ड तक सभी महिलाएं थीं। 43 बंद वैगनों में 3,686 टन का माल लेकर यह मालगाड़ी मंगलवार सुबह 11:30 बजे वसई रोड़ से रवाना हुई और 6 घंटे के बाद वडोदरा पहुंची। महिला पायलटों ने इसे करीब 60 किमी प्रति घंटे की औसत गति से चलाया। पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक आलोक कंसल ने बुधवार काे कहा, “पश्चिम रेलवे ने एक और परंपरा को तोड़ा है, जो इतिहास में दर्ज हाे गया। महिलाओं ने एक शानदार उदाहरण पेश किया है कि कोई भी काम उनकी क्षमता से बाहर नहीं है।’ कुछ साल पहले पश्चिम रेलवे ने पहली मोटरवुमेन प्रीति कुमारी को उपनगरीय ट्रेन चलाने की कमान सौंपी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × 3 =