धमाके के साथ आया एसबीआई कार्ड्स का आईपीओ

0
51

एसबीआई कार्ड्स का आईपीओ सोमवार, 2 मार्च को खुला। कंपनी की योजना इसके जरिए 10,335 करोड़ रुपये जुटाने की है। यह देश की दूसरी सबसे बड़ी क्रेडिट कार्ड कंपनी है। 3 मार्च तक SBI कार्ड्स के IPO 56.5 फीसदी सब्सक्राइब हो गए हैं।

यह 2020 का पहला आईपीओ है। एक्सचेंज पर मौजूद आंकड़ों के मुताबिक, कपनी ने 10,000 शेयर जारी किए हैं। इनमें से 5.62 करोड़ रुपए के लिए बोली लग चुकी है। रिटेल इनवेस्टर्स के लिए 89.72 फीसदी शेयर हैं। खासतौर पर इस सेक्शन की बात करें तो यह 99.45 फीसदी सब्सक्राइब हो चुका है। SBI कार्ड्स, स्टेट बैंक की सब्सिडियरी है। बैंक अपने कर्मचारियों को फाइनल ऑफर प्राइस पर 75 रुपए का डिस्काउंट दे रहा है।

क्वालीफाइड इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स के लिए रिजर्व सेक्शन में सब्सक्रिप्शन सिर्फ 0.1 फीसदी है। वहीं, नॉन-इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स कैटेगरी में 18.67 फीसदी सब्सक्रिप्शन हुआ है। अक्टूबर 2017 के बाद यह सबसे बड़ा IPO है। इसमें 500 करोड़ रुपये का फ्रेश इश्यू है। साथ ही 13.05 करोड़ शेयर SBI और कार्लाइल ग्रुप की CA रोवर होल्डिंग्स की है।

एसबीआई कार्ड्स के आईपीओ (IPO) का प्राइस बैंक 750-755 रुपए है। यह आईपीओ 2 मार्च को खुला है और 5 मार्च को बंद होगा। इश्यू की लिस्टिंग 16 मार्च को होने वाली है। एनालिस्ट्स को उम्मीद है कि इसकी लिस्टिंग प्रीमियम पर होगी। लेकिन बाजार का हाल देखकर लगता है कि इसकी मुश्किल बढ़ भी सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × 4 =