नहीं रहीं हिमोजी’, ‘अलबेली’, ‘चित्रगीत’ की सर्जक अपराजिता शर्मा

0
123

नयी दिल्ली : मिरांडा हाउस कालेज में हिंदी की एसोसिएट प्रोफेसर अपराजिता शर्मा का हृदयाघात से निधन हो गया। अपराजिता अपने विद्यार्थियों के बीच तो लोकप्रिय रहीं और हिन्दी में भावाभिव्यक्ति वाले स्टीकर देकर उन्होंने भाषा की प्रगति में बड़ा योगदान दिया। उनका बनाया हिमोजी एप बहुत चर्चित हुआ था। कुछ साल पहले हिमोजी एप लांच हुआ था। दरअसल, इमोजी तो सिर्फ भावनाओं का संचार करता है लेकिन हिमोजी में एक चरित्र के साथ कुछ शब्दों के जरिए भावनाओं को व्यक्त किया जाता है। अपराजिता ने 270 से अधिक हिमोजी बनाए। जो गुस्सा, नाराजगी, प्यार, दोस्ती आदि पर आधारित हैं। अपराजिता एक कलाकार थीं और कला के जरिए महिलाओं की व्यथा को समाज के सामने रखती थी। इंटरनेट मीडिया खासकर फेसबुक पर अपराजिता द्वारा ईजाद वर्चुअल कैरेक्टर अलबेली खासी लोकप्रिय है। कारण, अलबेली महिलाओं के हक की आवाज बुलंद करती है।

Previous articleसमीक्षा : आत्मकथात्मक शैली में प्रेम की संवेदनशील गाथा है ‘अंत में बारिश’
Next articleशुभजिता स्वदेशी : टाटा की एयर इंडिया वापस टाटा के पास
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fourteen − seven =