नहीं रहे ऑडियो कैसेट लाने वाले ओटेन्स

0
207

1963 में बनाया था पहला कैसेट
ऑडियो कैसेट के डच आविष्कारक लोऊ ओटेन्स का हाल में 94 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। उन्होंने पहला कैसेट 1963 में बनाया था। अब तक दुनियाभर में 10,000 करोड़ कैसेट टेप बिकने का अनुमान है। कैसेट ने लोगों को चलते-फिरते भी संगीत सुनने की सुविधा दी। ओटेन्स ने बीते सप्ताहांत में नीदरलैंड्स स्थित अपने होम टाउन डाइजल में अंतिम सांस ली। ओटेन्स 1960 में फिलिप्स के प्रोडक्ट हेड डिपार्टमेंट के प्रमुख बने थे। ओटेन्स की टीम को भारी-भरकम रील टेप रिकॉर्डर को पोर्टेबल गैजेट में तब्दील करने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। इसका परिणाम कैसेट के रूप में आया। 37 वर्षीय ओटेन्स ने 30 अगस्त 1963 को बर्लिन में ऑडियो कैसेट को दुनिया के सामने पेश किया। वर्ष 2013 में कैसेट के आविष्कार के 50 साल पूरे होने के मौके पर एक इंटरव्यू में ओटेन्स ने कहा था, मैंने जब कैसेट को पहली बार दुनिया के सामने इसे पेश किया, तो यह ‘सनसनी’ बन गई थी। कैसेट का दौर आने से पहले रिकॉर्डिंग के लिए रील-टू-रील डिवाइस इस्तेमाल होती थी। लेकिन इसे इस्तेमाल करना कठिन था। इसके लिए ट्रेनिंग और विशेषज्ञता की जरूरत पड़ती थी।
फिलिप्स और सोनी के साथ डील के बाद ओटेन के कैसेट मॉडल को पेटेंट मिल गया। हालांकि, कैसेट वास्तव में उस समय मशहूर हुई जब 1979 में सोनी ने वॉकमैन पेश किया। वॉकमैन एक पोर्टेबल कैसेट प्लेयर था। इस प्रोडक्ट ने पूरी दुनिया में तहलका मचा दिया। ओटेन्स अपने इस आविष्कार के लिए सोनी के वॉकमैन को सबसे मुफीद माध्यम बताते थे, न कि फिलिप्स को। जबकि उन्होंने इसे फिलिप्स के लिए विकसित किया था।

(साभार – दैनिक भास्कर)

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

six − six =