नैसकॉम के सदस्य पहुँचे एचआईटीके, युवा उद्यमियों को दिखायी राह

0
23

कोलकाता। इन्ट्रैकर के डेटा ट्रैकिंग प्लेटफॉर्म फिनट्रैकर के अनुसार भारत में 100 यूनिकॉर्न में से केवल 18 यूनिकॉर्न ने वित्तीय वर्ष 2021 में लाभप्रदता प्राप्त की और 57 को गहरा नुकसान हो रहा है। उनमें से कुछ ने यू.एस. या सिंगापुर में पंजीकृत अपने राजस्व, हानि या लाभ के आंकड़ों का खुलासा नहीं किया है। इसके कारण उचित परामर्श की कमी, विचारों की व्यवहार्यता, जटिल नियम और बहुत कुछ हो सकते हैं। इस समस्या का समाधान करने और भविष्य में उद्यमी बनने की इच्छा रखने वाले उभरते इंजीनियरों के बीच जागरूकता पैदा करने के लिए, हेरिटेज इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के एप्लाइड इलेक्ट्रॉनिक्स और इंस्ट्रुमेंटेशन इंजीनियरिंग विभाग ने 17 जून 2022 को ‘छात्र उद्यमिता को प्रोत्साहित करने’ पर एक सत्र आयोजित किया जिसे संबोधित किया गया था
इस कार्यक्रम में नैसकॉम के सदस्यों की ओर से युवा विद्यार्थियों को उद्यमिया को लेकर सलाह दी गयी। 10K स्टार्टअप पहल के सदस्य। नैसकॉम की टीम में अरिहंत कोठारी, रणनीति, निवेश, प्रौद्योगिकी अनुप्रयोग, ईएसजी, बाजार अनुसंधान, विश्लेषिकी, शासन और विकास, नैसकॉम और अनूप दास, मुख्य रणनीति अधिकारी और एक्सवालु, भारत में भारत संचालन के प्रमुख शामिल थे। सदस्यों ने बी.टेक- एप्लाइड इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंस्ट्रुमेंटेशन इंजीनियरिंग के छात्रों के साथ बातचीत की और उनकी परियोजनाओं का मूल्यांकन किया जैसे कोविड 19 रोगी सुविधाओं के स्वचालित इनडोर वायु गुणवत्ता मॉनिटर, विभिन्न औद्योगिक और जैव चिकित्सा अनुप्रयोगों में 555 टाइमर का उपयोग, स्मार्ट ऊर्जा कुशल स्ट्रीट लाइटिंग सिस्टम, स्वचालित संयंत्र जल प्रणाली, चाय बागान के लिए स्मार्ट कृषि प्रणाली का डिजाइन, पासवर्ड आधारित सुरक्षा प्रणाली और बहुत कुछ।
अनूप दास ने कहा, “जिन छात्रों के पास एक ठोस विचार है जो प्रारंभिक अवस्था में है और पर्याप्त सलाह की आवश्यकता है, उनमें बहुत संभावनाएं हैं।” “हम उन छात्रों को अपना समर्थन देंगे जिनके विचार एक उद्यम शुरू कर सकते हैं। मुझे खुशी है कि ऐसी नवोन्मेषी परियोजनाएं उन भावी इंजीनियरों की ओर से आई हैं जो एक उद्यमी बनना चाहते हैं। चूंकि पश्चिम बंगाल सरकार के साथ हमारी साझेदारी है, इसलिए हम इन छात्रों की काफी हद तक मदद कर सकते हैं,” अरिहंत कोठारी ने कहा।
एचआईटीके की एप्लाइड इलेक्ट्रानिक्स और इंस्ट्रीमेंटेंशन इंजीनियरिंग विभागाध्यक्ष प्रोफेसर मधुरिमा चट्टोपाध्याय ने कहा कि “इन छात्रों ने विभिन्न अभिनव परियोजनाएं बनाई हैं जो अब प्रोटोटाइप के चरण में हैं और मुझे खुशी है कि नैसकॉम भविष्य में उद्यमी बनने की इच्छा रखने वालों को सलाह देने के लिए अपनी 10K स्टार्टअप पहल के तहत आगे आया था,”
हेरिटेज ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस, कोलकाता के सीईओ पी. के. अग्रवाल ने कहा, “भविष्य उन उद्यमियों का है जो समाज में मूल्य जोड़ सकते हैं। भारत अब ऐसे स्टार्टअप बनाने का बीड़ा उठा रहा है जो राष्ट्र निर्माण में योगदान दे सकते हैं। विरासत में, हमने संस्थान के साथ स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र को प्रोत्साहित करने के लिए पहले ही नींव बना ली है। “ऑटोमैटिक हैंड सैनिटाइज़र और फेस डिटेक्शन तकनीक पर मेरे प्रोजेक्ट को नासकॉंम के मेंटर्स ने काफी सराहा था। मुझे यह जानने का व्यावहारिक अनुभव भी मिला कि मेरे प्रोजेक्ट में कहां कमियां हैं जिनमें सुधार की जरूरत है, ”मयूख बनर्जी, बी.टेक- एईईई चौथे वर्ष के छात्र ने कहा।
हाल ही में अमेजन ए आई में प्लेसमेंट पाने वाले कौस्तुभ सरकार ने कहा, “मैंने हाल ही में अमेज़न एआई में 45 लाख प्रति वर्ष के सीटीसी के साथ नौकरी हासिल की है। मैं वर्तमान में एम.टेक-एईआईई के अंतिम वर्ष में अध्ययन कर रहा हूं और संस्थान द्वारा इस तरह की पहल वास्तव में सराहनीय है। भविष्य में मैं एआई में अपना उद्यम शुरू करने की भी योजना बना रहा हूं और यह मंच मुझे अपने उद्यमशीलता कौशल को बढ़ाने का पर्याप्त अवसर देता है। ”

Previous articleनृत्यक्षेत्र द्वारा नाट्यदर्शन और कृष्ण प्रिया की प्रस्तुति
Next articleएमसीसीआई ने आयोजित की कॉरपोरेट प्रशिक्षण कार्यशाला
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 − six =