पूर्व रेलवे के सात प्रमुख स्टेशनों पर जल्द ही फिर से शुरू होगी ई-कैटरिंग सेवाएं

0
152

कोलकाता : कोविड-19 के प्रसार को रोकने के उपाय के रूप में भारतीय रेलवे ने फरवरी के अंत में देशव्यापी लॉकडाउन के समय ही ई-कैटरिंग सेवाओं को निलंबित कर दिया था। अब यात्रियों की बढ़ती मांग को देखते हुए रेलवे बोर्ड ने आइआरसीटीसी को चुनिंदा स्टेशनों पर फिर से ई कैटरिंग सेवा शुरू करने की अनुमति दे दी है। इसके मद्देनजर लंबे अंतराल के बाद पूर्व रेलवे के प्रमुख स्टेशनों पर जल्द ही फिर से ई-कैटरिंग सेवाएं शुरू की जाएगी। रविवार को पूर्व रेलवे की ओर से जारी एक बयान में यह जानकारी दी गई।
दरअसल, अनलॉक के बाद लंबी दूरी की ट्रेनों और विशेष ट्रेनों के फिर से शुरू होने के साथ आइआरसीटीसी की ई-कैटरिंग सेवाओं को फिर से बहाल करने के लिए यात्रियों की ओर से लगातार मांग की जा रही थी, क्योंकि ट्रेनों व स्टेशनों पर गर्म, स्वस्थ और स्वास्थ्यकर भोजन की आपूर्ति के लिए आइआरसीटीसी की सेवाएं बहुत लोकप्रिय है। यात्रियों की लगातार मांग को देखते हुए आइआरसीटीसी ने रेलवे बोर्ड को चुनिंदा स्टेशनों पर ई-कैटरिंग सेवाओं की फिर से बहाली के लिए अनुरोध पत्र लिखा था। तदनुसार, रेलवे बोर्ड ने आइआरसीटीसी को चयनित रेलवे स्टेशनों पर ई-कैटरिंग सेवाओं को फिर से शुरू करने की अनुमति दे दी है।
हालांकि आइआरसीटीसी व उसके अधिकृत वेंडरों को केंद्र और राज्य सरकारों एवं अधिकृत एजेंसियों द्वारा जारी किए गए स्वास्थ्य और सुरक्षा प्रोटोकॉल से संबंधित सभी दिशा निर्देशों का पालन करना होगा। बयान में बताया गया कि पूर्व रेलवे के क्षेत्राधिकार में ई-कैटरिंग सेवाएं सात रेलवे स्टेशनों पर शुरू की जाएंगी। ये हावड़ा, सियालदह, कोलकाता, दुर्गापुर, आसनसोल, मालदा और भागलपुर स्टेशन हैं।
वहीं, मालदा डिवीजन, हावड़ा डिवीजन और जमालपुर के अलावा बर्धमान और बोलपुर में आने वाले दिनों में ई-कैटरिंग सेवाओं के दायरे में और अधिक स्टेशनों को जोड़ने की भी योजना है। गौरतलब है कि‌ ई-कैटरिंग सेवाओं का मूल उद्देश्य विभिन्न शहरों के रेलवे स्टेशनों पर मौजूद रेस्तरां और फूड प्लाजा में उचित दर पर विभिन्न प्रकार के भोजन प्रदान करना है।
ई-कैटरिंग के तहत भारतीय रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन लिमिटेड (आइआरसीटीसी) द्वारा बड़ी संख्या में खाद्य एग्रीगेटरों द्वारा सेवाएं प्रदान की जाती हैं। इसके अलावा , ई-कैटरिंग सेवाओं में फास्ट फूड यूनिट और फूड प्लाजा चुनिंदा स्टेशनों पर उपलब्ध हैं। यात्री अपनी बर्थ संख्या का विवरण देकर ई-कैटरिंग सुविधा का लाभ उठा सकते हैं और ई-कैटरिंग के माध्यम से या तो अग्रिम भुगतान करके या डिलीवरी के बाद भुगतान करके इसका लाभ उठा सकते हैं। ‌ई-खानपान को अधिक लोकप्रिय बनाने के लिए पूर्व रेलवे आइआरसीटीसी को सभी प्रकार का सहयोग व समर्थन दे रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eleven − 11 =