‘प्रयोगधर्मी और विद्यार्थियों पर केंद्रित होगी भविष्य की शिक्षा प्रणाली’

0
114

कोलकाता। शिक्षा का क्षेत्र प्रयोगधर्मी होगा और यह विद्यार्थियों पर केन्द्रित होगा। सीआईआई द्वारा आयोजित एडुकेशन ईस्ट समिट को सम्बोधित करते हुए आईआईईएसटी के पूर्व निदेशक डॉ. अजय राय ने उक्त बातें कहीं। उन्होंने विद्यार्थियों को, विशेषकर स्कूली विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करने के लिए शिक्षकों का आह्नान किया। वे समिट के उद्घाटन सत्र को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सामान्य शैक्षणिक गतिविधियों से आगे जाकर शिक्षकों को काम करना होगा…वे कहानी सुनाने की शैली अपना सकते हैं। उन्होंने प्रश्न पूछने पर भी जोर दिया और सीआईआई को इस क्षेत्र में सभी के साथ काम करने का परामर्श देते हुए कहा कि कोलकाता में लॉजिक/ स्टैटिस्टक्स एवं गणित के लिए शिक्षण केन्द्र स्थापित किये जाने चाहिए।
एडोब इंडिया की उपाध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक प्रतिभा महापात्र ने अपने मूल वक्तव्य में मष्तिष्क को विकसित करने वाली शिक्षण व्यवस्था पर जोर दिया। तकनीक, संरचना, संसाधन का उपयोग करने पर एडुटेक कम्पनियों के लिए शिक्षा के क्षेत्र में काफी सम्भावनाएं हैं। सीआईआई की राष्ट्रीय शिक्षा परिषद के चेयरमैन डॉ. बी. वी. आर. मोहन रेड्डी ने कहा कि शिक्षा का भविष्य प्रयोगधर्मी और विद्यार्थी केन्द्रित होगा। उन्होंने शिक्षकों के प्रशिक्षण पर जोर देने और शिक्षा को स्किल यानी कौशल पर केन्द्रित करने की भी बात कही। ब्रिटिश काउंसिल के निदेशक (पूर्व एवं उत्तर पूर्व) डॉ. देवांजन चक्रवर्ती ने कहा कि डिजिटल शिक्षा के प्रभावों का आकलन करना होगा।
उद्घाटन सत्र में सीआईआई पूर्वी क्षेत्र की की एडुकेशन सबकमेटी के मेंटर मदन मोहनका ने विशेष वक्तव्य दिया। सीआईआई की पूर्वी क्षेत्र की की एडुकेशन सबकमेटी के चेयरमैन एवं हेरिटेज ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस के सीईओ ने शिक्षा के क्षेत्र में हो रहे सुधारों पर चर्चा की। धन्यवाद ज्ञापन इस सबकमेटी की को – चेयरपर्सन ब्रतती भट्टाचार्य़ ने दिया।
इस दो दिवसीय सम्मेलन में शिक्षा से सम्बन्धित कई अन्य विषयों पर चर्चा हुई।

Previous articleबेहतरीन सुविधाओं के साथ निवेश के लिए तैयार है बंगाल
Next articleधरती प्राकृतिक नववर्ष गुड़ी पड़वा यानी ध्वज प्रतिपदा
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 − ten =