फ्लिपकार्ट ने पेश किया नया डिजिटल बाजार ‘होलसेल’

0
86

वॉलमार्ट इंडिया का किया अधिग्रहण
नयी दिल्ली/बंगलूरू : फ्लिपकार्ट समूह ने देश के 650 अरब डॉलर के थोक कारोबार बाजार में उतरने के लिए नए डिजिटल बाजार ‘फ्लिपकार्ट होलसेल’ शुरू करने की घोषणा की। साथ ही कंपनी ने वॉलमार्ट इंडिया प्राइवेट लिमिटेड की 100 प्रतिशत हिस्सेदारी भी खरीदी है।
वॉलमार्ट इंडिया देश में ‘बेस्ट प्राइस’ नाम से थोक दुकानों का परिचालन करती है। अभी इसके देशभर में 28 स्टोर हैं। फ्लिपकार्ट की ओर से यह घोषणा ऐसे समय की गयी है जब कंपनी ने हाल ही में वॉलमार्ट के नेतृत्व वाले निवेशकों के समूह से 1.2 अरब डॉलर का निवेश जुटाया है। हालांकि फ्लिपकार्ट ने वॉलमार्ट इंडिया के अधिग्रहण सौदे के मूल्य का खुलासा नहीं किया है।
गौरतलब है कि वॉलमार्ट इंडिया, दुनिया की सबसे बड़ी खुदरा कारोबार कंपनियों में से एक वॉलमार्ट के पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी है। वहीं फ्लिपकार्ट में 77 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने के लिए वॉलमार्ट ने 2018 में 16 अरब डॉलर का निवेश किया था।
कम्पनी ने एक बयान में कहा कि ‘फ्लिपकार्ट होलसेल’ एक बी2बी (कंपनियों के बीच आपस में कारोबार) डिजिटल बाजार होगा। फ्लिपकार्ट अगस्त में इसका परिचालन शुरू करेगी। कंपनी ने कहा कि यह देश के खुदरा बाजार की जान किराना और लघु एवं मझोले उद्यमों (एमएसएमई) की जरूरतों को पूरा करने पर ध्यान देगा। कंपनी छोटे कारोबार क्षेत्र को उचित मूल्य पर उत्पादों की विस्तृत श्रृंखला में से चुनने का अवसर प्रदान करेगी।
फ्लिपकार्ट होलसेल का नेतृत्व कंपनी के वरिष्ठ कर्मी आदर्श मेनन करेंगे। वहीं वॉलमार्ट इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी समीर अग्रवाल अधिग्रहण पूरा होने तक अपने पद पर बने रहेंगे। उसके बाद उन्हें वॉलमार्ट में ही कोई और जिम्मेदारी दे दी जाएगी। वहीं वॉलमार्ट इंडिया के करीब 3,500 अन्य कर्मचारी फ्लिपकार्ट में शामिल होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen − seven =