माँ का अधूरा सपना पूरा करने के लिए खड़ी कर दी अरबों की ई कॉमर्स कम्पनी

0
182

एक बेहतरीन आइडिया से जिंदगी बदल सकता है। कुछ ऐसा ही जापान के युता सुरुओका के साथ हुआ। उनके लिए मां की बात एक चुनौती बन गई और उन्होंने 1.7 अरब डॉलर (करीब 12580 करोड़ रुपए) की कम्पनी खड़ी कर दी। दरअसल, युता की मां जापान के ग्रामीण इलाके में छोटी सी स्टोर चलाती थीं। पर वे इसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर ले जाना चाहती थीं, उन्हें इस बात की कोई जानकारी नहीं थी। उन्होंने युता से जिक्र किया कि यदि इंटरनेट की जानकारी होती तो वह बिजनेस को ऑनलाइन करतीं।
30 साल के युता बताते हैं कि हम ऐसी दुनिया में थे इंटरनेट स्किल न जानना और पैसों की कमी के चलते ऐसे बिजनेस की कल्पना भी नहीं की जा सकती थी। बात 2012 की है, उस वक्त युता एक क्राउडफंडिंग स्टार्टअप में इंटर्न थे। उन्होंने तभी छोटे कारोबारियों को ऑनलाइन लाने के लिए सॉफ्टवेयर बनाने का फैसला लिया। उसी वक्त उन्होंने बेस नाम से अपनी कम्पनी शुरू की। जिसका बाजार मूल्य करीब 1.7 अरब डॉलर पहुंच गया है। इसके साथ ही युता अरबपति बन गए हैं।
इनकी कम्पनी लोगों को अपनी ऑनलाइन शॉप खोलने में मदद करती है। इसके अलावा उन्होंने एक शॉपिंग एप भी बनाया है, जिसके 70 लाख यूजर हैं। बाजार विश्लेषक ओषिधि कुमारसिरी के मुताबिक बेस प्लेटफॉर्म यूजर को ध्यान में रखकर बनाया गया है, जिससे कुछ ही घंटों में बिजनेस ऑनलाइन ले जा सकते हैं।
यूजर्स से वेबसाइट बनाने के लिए बेस फीस नहीं वसूलती, बल्कि साइट के लिए बनाए गए पेमेंट टूल्स द्वारा लेन-देन पर शुल्क से रेवेन्यू कमाती है। युता बताते हैं कि उन्होंने शौकिया तौर पर बेस की शुरुआत की थी, पर लोगों ने इसे महत्व देना शुरू किया, तो इसे कम्पनी में बदलने का फैसला लिया। हम चाहते थे कि लोगों को एक ही बार में सारी सुविधाएं ऑनलाइन मिल जाएं, और हम यह करने में सफल रहे।
इस सफलता के लिए फोर्ब्स की सूची में शामिल किए गए युता
युता के इस ई प्लेटफॉर्म की सफलता के लिए उन्हें फोर्ब्स की 30 अंडर 30 सूची में भी शामिल किया गया। इस साल कोरोना के कारण उनकी कम्पनी को खासा बिजनेस मिला। अगस्त 2019 तक उनके प्लेटफॉर्म से 8 लाख कंपनिया रजिस्टर्ड थीं, जिनकी संख्या इस साल सितंबर तक बढ़कर 12 लाख पर पहुँच गयी।
(साभार – दैनिक भास्कर)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × 4 =