माँ…को समर्पित कविताएँ

0
118

– बब्बन 
स्वर्ग से बढ़कर माँ है मेरी,
उसके कदमों में जन्नत है।
माँ का साया जबतक मुझ पर है,
पूरी मेरी सब मन्नत है।
(1)
जिसकी उँगली पकड़ पकड़ कर,
हमने कदम उठाना सीखा।
सीने से जिसके लिपट लिपट कर,
आँसू जहाँ बहाना सीखा।
कर्त्तव्य ककहरा, रिश्तों की भाषा,
देशप्रेम का जहाँ तराना सीखा।
दूध से जिसके हमने बल पाकर,
सत्य मार्ग पर जाना सीखा।
उस माँ के कदमों के धूल के आगे,
नहीं सुखद कोई धन दौलत है।
स्वर्ग से बढ़कर माँ है मेरी,
उसके कदमों में जन्नत है।

(2)
ममत्व की गंगा सदा बहाकर,
तन और मन को जिसने धोया,
ठण्डा -गरम शरीर को छूकर,
आँसू से आँचल सदा भिगोया।
हाथो,लातों की सहकर शरारत,
मुझे सुलाया खुद नहीं सोया।
सफलता के लिए उठाकर आँचल,
हर पूजा स्थल पर जाकर रोया।
विश्व जो आज पल्लवित पुष्पित है,
यह सब माँ के ही बदौलत है।
स्वर्ग से बढ़कर माँ है मेरी,
उसके कदमों मे जन्नत है।

(3)
माँ करुणा की वरुणा,
प्रेम की है पिटारी।
कच्चे घड़े का भीतर से आलम्ब,
उपर से थाप है माँ हमारी।
ममता की हिन्द महासागर,
और वात्सल्य की फुलवारी।
मुहब्बत की मँजूषा,स्नेह की सरिता,
जिसके गोद में सबने भरी किलकारी।
माँ के चरणों मे न्योछावर,
दुनियाँ की सारी सल्तनत है।
स्वर्ग से बढ़कर माँ है मेरी,
उसके कदमों में जन्नत है।

(4)
विश्व का सबसे व्यापक व महत्वपूर्ण शब्द है माँ
इसमें समाहित है पूरी धरा व विशाल आसमाँ।
इसके व्यापक आँचल से छोटा है सारा जहाँ।
अकेली माँ के आगे बौने हैं हजारों कारवाँ।
सैकड़ों जीवन कुर्बान हमारा,
शीश जहाँ हर क्षण अवनत है।
स्वर्ग से बढ़कर माँ है मेरी,
उसके कदमों में जन्नत है।

(5)
जननी जन्मभूमिश्च
स्वर्गादपि गरीयसी।
जननी है तो प्राप्त है हमें,
दुनियाँ की सारी खुशी।
पलने से लेकर कब्र तक,
माँ सबके हृदय में बसी।
सन्तान की सलामती के लिए,
जिसे स्वीकार्य है हर बेबसी।
ऐसी माँ के चरण कमलों में,
न्यौछावर जीवन शत् शत् है।
स्वर्ग से बढ़कर माँ है मेरी
उसके कदमों में जन्नत है ।

मातृ दिवस पर,
सभी माताओं को समर्पित।

प्रयागराज/इलाहाबाद।

Previous articleनारायण हेल्थ ने स्थापित किया ‘ब्रेन स्ट्रोक’ के लिए स्पोक और हब मॉडल 
Next articleविश्व प्रसिद्ध गुरुदेव रवीन्द्र नाथ टैगोर
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

18 + 2 =