यू. एस. कॉन्सुलेट ने आयोजित की पूर्वोत्तर भारत की उद्यमियों के लिए कार्यशाला

0
77

कोलकाता : यू. एस. कॉन्सुलेट एवं शिलांग के एशियन कन्फ्लूएंस द्वारा नेक्सस इन्क्यूबेशन हब के सहयोग से पूर्वोत्तर भारत की उद्यमियों के लिए कार्यशाला आयोजित की। अमेरिकन सेंटर में ग्लोबल आंट्रेप्रिनयरशिप के तहत अमेरिकन सेंटर में गत 12 -13 नवम्बर को आयोजित इस 2 दिवसीय कार्यशाला में 25 चयनित महिला उद्यमियों ने भाग लिया। यह कार्यशाला द अकादमी फॉर विमेन आंट्रेप्रेनियर्स (एडब्ल्यूई) की फंडिंग स्टेट्स ब्यूरो ऑफ एडुकेशन एंड कल्चरल अफेयर्स (ईसीए) द्वारा की गयी है। कोरोना महामारी के बीच 50 देशों की 5 हजार महिलाओं को इसका लाभ मिल रहा है। यू. एस. कॉन्सुलेट जनरल कोलकाता के नेतृत्व में भारत में एडब्ल्यूई का पहला कार्यक्रम है जिससे 150 उद्यमियों को सहायता मिली है। इस कार्यशाला में अरुणाचल प्रदेश, असम, मणिपुर, मेघालय और नगालैंड की उद्यमियों ने भाग लिया और उनको सफल उद्यमियों से व्यवसाय के गुर सीखने को मिले। इन उद्यमियों को सम्बोधित करते हुए कौंसुल जनरल मेलिंडा पावेक ने कहा कि अमेरिका हमेशा से महिलाओं को सशक्त बनाने में विश्वास रखता है और यह कार्यशाला इसी दिशा में उठाया गया कदम है। नवम्बर 2020 में आरम्भ हुई इस योजना से 80 महिला उद्यमियों को ड्रीम बिल्डर सर्टिफिकेट प्रदान किया गया है। इसका अगला चरण 19 नवम्बर को बिहार एवं झारखंड में होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven − two =