राष्ट्रमंडल खेल : भारत का पांचवा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, इंग्लैंड ने बनाया पदकों का रिकॉर्ड

0
28

बर्मिंघम । भारत ने गत 9 अगस्त को संपन्न हुए राष्ट्रमंडल खेलों में 22 स्वर्ण सहित 61 पदक जीतकर अपना पांचवा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया जबकि मेजबान इंग्लैंड पदकों का अपना नया रिकॉर्ड बनाने में सफल रहा।
भारत निशानेबाजी के बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में शामिल नहीं होने के बावजूद 61 पदक जीतने में सफल रहा जिसमें 22 स्वर्ण, 16 रजत और 23 कांस्य पदक शामिल है। ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और कनाडा के बाद भारत पदक तालिका में चौथे स्थान पर रहा। राष्ट्रमंडल खेलों में भारत ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2010 में नयी दिल्ली में किया था। तब उसने 38 स्वर्ण पदक सहित कुल 101 पदक जीते थे और वह पदक तालिका में दूसरे स्थान पर रहा था।
भारत ने मैनचेस्टर में 2002 में खेले गए राष्ट्रमंडल खेलों में 30 स्वर्ण पदक सहित 69 पदक जीते थे जो हर चार साल में होने वाले इन खेलों में भारत का दूसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। भारत ने पिछली बार गोल्ड कोस्ट खेलों में 66 पदक जीते थे जिसमें 26 स्वर्ण पदक शामिल है।
मेलबर्न में 2006 में खेले गए राष्ट्रमंडल खेलों में भी भारत ने 22 स्वर्ण पदक जीते थे लेकिन तब उसके रजत पदकों की संख्या 17 थी। बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में भारत को पुरुष खिलाड़ियों ने 13 स्वर्ण सहित 35 पदक जबकि महिला खिलाड़ियों ने आठ स्वर्ण सहित 23 पदक दिलाए। भारत में मिश्रित स्पर्धाओं में तीन पदक हासिल किए जिसमें एक स्वर्ण भी शामिल है।
भारत में कुश्ती में सर्वाधिक 12 पदक जीते जिसमें छह स्वर्ण पदक शामिल हैं। इसके अलावा उसने टेबल टेनिस में चार तथा भारोत्तोलन, मुक्केबाजी और बैडमिंटन में तीन तीन स्वर्ण पदक हासिल किए।

बर्मिंघम में कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में 28 जुलाई से 8 अगस्त तक लगभग 200 भारतीय एथलीटों ने 16 विभिन्न खेलों में पदक के लिए प्रतिस्पर्धा की।

गोल्ड कोस्ट 2018 में पिछले संस्करण में, भारतीय एथलीटों ने कुल 66 पदक जीते थे। जिसमें 26 स्वर्ण, 20 रजत और 20 कांस्य पदक शामिल थे। इस तरह भारत मेजबान ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बाद तीसरे स्थान पर रहा था।

निशानेबाजी के खेल ने गोल्ड कोस्ट 2018 में 66 पदकों में से 16 पदक जीतने में मदद की। हालांकि, बर्मिंघम 2022 के राष्ट्रमंडल खेलों के प्रोग्राम से इस खेल को हटा दिया गया था।

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 से पहले हुए राष्ट्रमंडल खेलों में भारत के जीते गए कुल 503 पदकों में से 135 पदक निशानेबाजी में आए, जो किसी भी अन्य खेल में जीते गए पदकों की तुलना में सबसे अधिक रहे। इसमें 2010 में नई दिल्ली में हुए राष्ट्रमंडल खेल के दौरान जीते गए भारतीय निशानेबाजों के 30 पदक भी शामिल हैं। इसकी वजह से भारत ने इतिहास में अपने सबसे सफल कॉमनवेल्थ गेम्स का लुत्फ उठाया, जिसमें उन्होंने कुल 101 पदक जीते।

टोक्यो ओलंपिक भाला फेंक चैंपियन और विश्व चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता नीरज चोपड़ा की चोट के कारण CWG 2022 से बाहर होने से निश्चित रूप से भारत एक पदक से चूक गया।

निशानेबाजी खेल के शामिल नहीं होने और नीरज चोपड़ा की अनुपस्थिति में, भारतीय कुश्ती दल के ओलंपिक पदक विजेता रवि कुमार दहियाबजरंग पुनियासाक्षी मलिक और दो बार की ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधु, विश्व चैंपियनशिप पदक विजेता किदांबी श्रीकांत और लक्ष्य सेन की अगुवाई वाली भारतीय टीम ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में शानदार प्रदर्शन किया।

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में, भारतीय एथलीटों ने कुल 61 पदक जीते। जिसमें 22 स्वर्ण, 16 रजत और 23 कांस्य पदक शामिल रहे। संकेत सरगर बर्मिंघम में पदक जीतने वाले पहले भारतीय थे, जिन्होंने पुरुषों की 55 किग्रा भारोत्तोलन स्पर्धा में रजत पदक जीता था।

वहीं, मीराबाई चानू CWG 2022 में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय थीं, जबकि जेरेमी लालरिनुंगा बर्मिंघम में शीर्ष पोडियम हासिल करने वाले पहले भारतीय एथलीट थे।

इसके अलावा सुधीर ने सीडब्ल्यूजी 2022 में पैरा स्पोर्ट्स में भारत के लिए पहला स्वर्ण पदक जीता। वह पैरा पावरलिफ्टिंग पुरुषों के हैवीवेट वर्ग में चैंपियन बने।

राष्ट्रमंडल खेल 2022 में भारतीय पदक विजेता

नम्बर एथलीट/टीम मेडल इवेंट खेल
1 संकेत सरगर रजत पुरुष, 55 किग्रा वेटलिफ्टिंग
2 गुरुराज पुजारी कांस्य मेंस 61 किग्रा वेटलिफ्टिंग
3 मीराबाई चानू स्वर्ण वूमेंस 49 किग्रा वेटलिफ्टिंग
4 बिंदियारानी देवी रजत वूमेंस 55 किग्रा वेटलिफ्टिंग
5 जेरेमी लालरिनुंगा स्वर्ण मेंस 67 किग्रा वेटलिफ्टिंग
6 अचिंता शेउली स्वर्ण मेंस 73 किग्रा वेटलिफ्टिंग
7 सुशीला देवी रजत वूमेंस 48 किग्रा जूडो
8 विजय कुमार यादव कांस्य मेंस 60 क्रिग्रा जूडो
9 हरजिंदर कौर कांस्य वूमेंस 71 किग्रा वेटलिफ्टिंग
10 भारतीय महिला टीम स्वर्ण वूमेंस फोर लॉन बाउल्स
11 भारतीय पुरुष टीम स्वर्ण मेंस इवेंट टेबल टेनिस
12 विकास ठाकुर रजत मेंस 96 क्रिग्रा वेटलिफ्टिंग
13 भारतीय मिक्स्ड टीम रजत मिक्स्ड टीम बैडमिंटन
14 लवप्रीत सिंह कांस्य मेंस 109 किग्रा वेटलिफ्टिंग
15 सौरव घोषाल कांस्य मेंस सिंगल्स स्क्वैश
16 तूलिका मान रजत वूमेंस +78किग्रा जूडो
17 गुरदीप सिंह कांस्य मेंस 109+ किग्रा वेटलिफ्टिंग
18 तेजस्विन शंकर कांस्य मेंस हाई जंप एथलेटिक्स
19 मुरली श्रीशंकर रजत मेंस लॉन्ग जंप एथलेटिक्स
20 सुधीर स्वर्ण मेंस हेवीवेट पैरा पावरलिफ्टिंग
21 अंशु मलिक रजत वूमेंस 57 किग्रा रेसलिंग
22 बजरंग पुनिया स्वर्ण मेंस 65 किग्रा फ्रीस्टाइल रेसलिंग
23 साक्षी मलिक स्वर्ण वूमेंस 62 किग्रा फ्रीस्टाइल रेसलिंग
24 दीपक पूनिया स्वर्ण मेंस 86 किग्रा फ्रीस्टाइल रेसलिंग
25 दिव्या काकरन कांस्य वूमेंस 68 किग्रा फ्रीस्टाइल रेसलिंग
26 मोहित ग्रेवाल कांस्य मेंस 125 किग्रा रेसलिंग
27 प्रियंका गोस्वामी रजत वूमेंस 10,000 मीटर रेस वॉक एथलेटिक्स
28 अविनाश साबले रजत मेंस 3000 मीटर स्टीपलचेज एथलेटिक्स
29 भारतीय पुरुष टीम रजत मेंस फोर लॉन बाउल्स
30 जैस्मीन लम्बोरिया कांस्य वूमेंस 60 किग्रा लाइटवेट बॉक्सिंग
31 पूजा गहलोत कांस्य वूमेंस 50 किग्रा फ्रीस्टाइल रेसलिंग
32 रवि कुमार दहिया स्वर्ण मेंस 57 किग्रा फ्रीस्टाइल रेसलिंग
33 विनेश फोगाट स्वर्ण वूमेंस 53 किग्रा फ्रीस्टाइल रेसलिंग
34 नवीन स्वर्ण मेंस 74 किग्रा फ्रीस्टाइल रेसलिंग
35 पूजा सिहाग कांस्य वूमेंस 76 किग्रा फ्रीस्टाइल रेसलिंग
36 दीपक नेहरा कांस्य मेंस 97 किग्रा फ्रीस्टाइल रेसलिंग
37 मोहम्मद हुसामुद्दीन कांस्य मेंस 57 किग्रा फेदरवेट बॉक्सिंग
38 रोहित टोकस कांस्य मेंस 67 किग्रा वेल्टरवेट बॉक्सिंग
39 भाविना पटेल स्वर्ण वूमेंस सिंगल्स क्लासेस 3-5 पैरा टेबल टेनिस
40 सोनलबेन पटेल कांस्य वूमेंस सिंगल्स क्लासेस 3-5 पैरा टेबल टेनिस
41 महिला हॉकी टीम कांस्य वूमेंस टीम हॉकी
42 नीतू घंगास स्वर्ण वूमेंस 48 किग्रा मिनिममवेट बॉक्सिंग
43 अमित पंघल स्वर्ण मेंस फ्लाईवेट 51 किग्रा बॉक्सिंग
44 एल्धोस पॉल स्वर्ण मेंस ट्रिपल जंप एथलेटिक्स
45 अब्दुल्ला अबूबकर रजत मेंस ट्रिपल जंप एथलेटिक्स
46 संदीप कुमार कांस्य मेंस 10000 मीटर रेस वॉक एथलेटिक्स
47 अन्नू रानी कांस्य वूमेंस जैवलिन थ्रो एथलेटिक्स
48 निकहत जरीन स्वर्ण वूमेंस 50 किग्रा लाइट फ्लाईवेट बॉक्सिंग
49 शरत कमल/जी साथियान रजत मेंस डबल्स टेबल टेनिस
50 दीपिका पल्लीकल / सौरव घोषाल कांस्य मिक्स्ड डबल्स स्क्वैश
51 किदांबी श्रीकांत कांस्य मेंस सिंगल्स बैडमिंटन
52 भारतीय महिला टीम रजत वूमेंस T20 क्रिकेट
53 शरत कमल/श्रीजा अकुला स्वर्ण मिक्स्ड डबल्स टेबल टेनिस
54 त्रिशा जॉली / पुलेला गायत्री गोपीचंद कांस्य वूमेंस डबल्स बैडमिंटन
55 सागर अहलावत रजत मेंस 92+ किग्रा सुपर हेवीवेट बॉक्सिंग
56 पीवी सिंधु स्वर्ण वूमेंस सिंगल्स बैडमिंटन
57 लक्ष्य सेन स्वर्ण मेंस सिंग्ल्स बैडमिंटन
58 साथियान गणानाशेखरन कांस्य मेंस सिंग्ल्स टेबल टेनिस
59 सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी / चिराग शेट्टी स्वर्ण मेंस डबल्स बैडमिंटन
60 शरत कमल स्वर्ण मेंस सिंग्ल्स टेबल टेनिस
61 भारतीय पुरुष हॉकी टीम रजत मेंस हॉकी हॉकी
Previous articleमध्य प्रदेश की प्रियंका ने अंतरराष्ट्रीय वुशु टूर्नामेंट में जीता स्वर्ण
Next articleभारत के महान शतरंज खिलाड़ी आनंद बने फिडे उपाध्यक्ष 
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 × one =