लता जी के जाने से दूसरे देशों में भी फैली शोक की लहर

0
192

पाकिस्‍तान और बांग्‍लादेश के अखबारों में लता मंगेशकर के निधन की खबर मुखपृष्ठ पर पहले पन्‍ने पर 

इस्‍लामाबाद/ढाका । स्वर कोकिला लता मंगेशकर के निधन पर दुनियाभर में उनके प्रशंसक बेहद दुखी हैं और सोशल मीडिया पर अपनी पसंदीदा गायिका को श्रद्धांजलि दे रहे हैं। पाकिस्‍तान और बांग्‍लादेश में अखबारों ने लता मंगेशकर के निधन को अपने पहले पन्‍ने पर जगह दी है। अखबारों ने लता मंगेशकर के संगीत की दुनिया में किए गए योगदान को याद किया है। पाकिस्‍तानी अखबारों ने कई खबरें आज लता मंगेशकर पर छापी हैं। पाकिस्‍तानी अखबार डॉन ने लता मंगेशकर के बारे में लिखा कि वह न केवल भारत में बल्कि पूरे दक्षिण एशिया में लोकप्रिय थीं। डॉन ने लिखा, ‘लता मंगेशकर की मातृभाषा मराठी है लेकिन उन्‍होंने पंजाबी समेत कई भाषाओं में गाना गाया। भारत के बंटवारे के बाद चमन पहली पंजाबी फिल्‍म थी। इसे 6 अगस्‍त, 1948 को लाहौर के रतन सिनेमा में रिलीज किया गया था। पाकिस्‍तान के कई और अखबारों ने अपने पहले पन्‍ने पर लता मंगेशकर के निधन की खबर दी है।

‘अब कोई दूसरा लता मंगेशकर नहीं होगा’
वहीं बांग्‍लादेश के अखबार डेली स्‍टार ने भी लता मंगेशकर के निधन की खबर को पहले पन्‍ने पर दी है। डेली स्‍टार ने लिखा, ‘स्‍वर कोकिला हमेशा के लिए खमोश हो गईं।’ उसने कहा कि अब कोई दूसरा लता मंगेशकर नहीं होगा। पाकिस्तान में जीवन के सभी क्षेत्रों से जुड़ी हस्तियों ने रविवार को महान गायिका लता मंगेशकर के निधन पर श्रद्धांजलि देते हुए उन्हें ‘उपमहाद्वीप की स्वर-कोकिला’ एवं ‘स्वर साम्रागी’ बताया और कहा कि वह पाकिस्तानी लोगों की सबसे पसंदीदा कलाकार थीं एवं सदैव उनके दिलों पर राज करेंगी। पाकिस्तानी नेताओं, कलाकारों, क्रिक्रेटरों और पत्रकारों ने मंगेशकर के निधन पर शोक प्रकट करते हुए इसे ‘संगीत की दुनिया के लिए सबसे अंधकारमय दिन’ बताया। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने गायिका के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उपमहाद्वीप ने दुनिया की एक महान गायिका को खो दिया है। चीन की चार दिवसीय यात्रा पर गए खान ने ट्वीट किया, ‘लता मंगेशकर के निधन से उपमहाद्वीप ने दुनिया की एक महान गायिका को खो दिया। उनके गीतों को सुनकर पूरी दुनिया में बहुत सारे लोगों को खुशी मिली है।’

‘लता मंगेशकर के निधन से संगीत के एक युग का अंत’
गायक-अभिनेता अली जफर ने कहा, ‘लता मंगेशकर जी जैसी महान शख्सियत को शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता।’ सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने ट्वीट किया, ‘लता मंगेशकर के निधन से संगीत के एक युग का अंत हो गया। लता ने दशकों तक संगीत की दुनिया पर राज किया और उनकी आवाज का जादू हमेशा बरकार रहेगा।’ उन्होंने बीजिंग से उर्दू में यह ट्वीट किया जहां वह पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा बनकर गये हैं। चौधरी ने लिखा, ‘जहां भी उर्दू बोली और समझी जाती है, वहां लता मंगेशकर को अलविदा कहने वालों का हुजूम है।’ उन्होंने अंग्रेजी में भी अलग से ट्वीट किया। उन्होंने कहा, ‘महान गायिका नहीं रहीं। लता मंगेशकर मधुर आवाज की रानी थीं जिन्होंने दशकों तक संगीत की दुनिया पर राज किया। वह संगीत की बेताज रानी थीं। उनकी आवाज आने वाले दिनों में लोगों के दिलों पर राज करती रहेगी।’

‘लता मंगेशकर हमारे दिलों में सदैव रहेंगी’
सत्तारूढ़ पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के सीनेटर (सांसद) अली जरदार ने कहा, ‘महाद्वीप की स्वरकोकिला लता मंगेशकर सुंदर मधुर आवाज की धनी थीं जो हर संगीत प्रेमी के जीवन का हिस्सा थी। उनकी आत्मा को शांति मिले। वह हमारे दिलों में हमेशा रहेंगी और दुनियाभर में भावी पीढ़ियों को अथाह खुशी देती रहेंगी।’ विपक्षी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी की सीनेटर शीरी रहमान ने कहा कि मंगेशकर सिनेमा का एक युग थीं।

उन्होंने कहा, ‘उनके निधन की खबर से दुख हुआ। उन्होंने इतने सारे गाने गये कि उनमें से किन्हीं पांच का चुनाव कर पाना असंभव है, सबसे पसंदीदा है: आज फिर जीने की तमन्ना है,।’ विपक्षी पाकिस्तान मुस्लिम लीग – नवाज (पीएमएल-एन) की सांसद हीना परवेज बट ने कहा , ‘महान गायिका लता मंगेशकर हमारे दिलों में सदैव रहेंगी। दुनियाभर में उनके प्रशंसकों को मेरी संवेदना है। हम उनके गाने सुनकर बड़े हुए हैं। उनकी सुंदर आवाज हमेशा जीवित रहेगी।’

 

Previous articleस्मृतियों में स्वर कोकिला – जब भारतीय टीम की जीत के लिये लताजी ने रखा था व्रत
Next articleलता मंगेशकर : आवाज ही जिनकी पहचान है
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 − eleven =