विद्यासागर विश्वविद्यालय में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन

0
31

मिदनापुर । विद्यासागर विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग की ओर से सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। स्वागत वक्तव्य देते हुए डॉ संजय जायसवाल ने कहा कि कला और संस्कृति से विद्यार्थी सृजनात्मक एवं उच्चतर मूल्यों से जुड़ते हैं। अतः विद्यार्थियों को एकेडमिक शिक्षण के साथ-साथ सांस्कृतिक कार्यक्रमों से जुड़ना चाहिए। इस अवसर पर पूजा मिश्रा, नीलोफ़र बेग़म, रेणु सिन्हा, मुस्कान खातून और राधिका ने संगीत प्रस्तुत किया। मधु सिंह, उस्मिता गौंड़ा, राहुल गौंड़, पंकज सिंह, अन्नू तिवारी, संजीत महतो, ज्योति सिंह, श्वेता सोनकर, पूजा साव, बिट्टू कौर, रौशन कुमार झा, प्रिया कुमारी चौधरी और अंजली ओझा ने कविता पाठ किया तथा नेहा शर्मा, के स्वाति रेखा, पी. मधु, वर्षा गुप्ता और निरुपमा ने समूह और अलीशा देवी और पी.बेबी ने एकल भावनृत्य प्रस्तुत किया। विभाग के सहायक अध्यापक डॉ श्रीकांत द्विवेदी ने कहा कि विद्यार्थियों की रचनाशीलता, तार्किकता और सांस्कृतिक दक्षता को देखकर बहुत अच्छा लग रहा है। निश्चित तौर पर ये विद्यार्थी आगे चलकर व्यापक मानवीय मूल्यों से जुड़ेंगे। कार्यक्रम को सफल बनाने में राधेश्याम सिंह,फरहाना परवीन,मोनू,डी.देवी.,डिंकी कोमल अहिरवाल रागिनी ,सिमरन,पूजा गोप,अपर्णा शर्मा आदि ने विशेष सहयोग दिया। कार्यक्रम का संचालन सिमरन गुप्ता तथा धन्यवाद ज्ञापन रूपेश यादव ने दिया।

Previous articleशुभजिता स्वदेशी – रसोई का पुराना स्वाद वनस्पति घी का लोकप्रिय विकल्प था डालडा
Next articleमहंगाई से निपटना है तो मुफ्तखोरी से निजात पानी होगी
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × 1 =