‘विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस’ पर कवि गोष्ठी

0
21

कोलकाता : “विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस” का आयोजन प्रान्तीय अध्यक्ष डॉ. गिरिधर राय की अध्यक्षता में “राष्ट्रीय कवि संगम” की सेंट्रल कोलकाता इकाई द्वारा किया गया। जिलाध्यक्ष रमाकांत सिन्हा के मधुर सरस्वती वंदना से कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। इस मौके पर स्वतंत्रता संग्राम में बलिदान देने वाले वीरों के शौर्य और पराक्रम पर प्रबुद्ध रचनाकारों ने एक से बढ़कर एक स्वरचित कविताओं का काव्य पाठ कर के श्रोताओं को मंत्र मुग्ध कर दिया। डॉ. गिरिधर राय ने अपनी कविता – “यह देश है हमारा इसके हम सिपाही / रक्षा में इस ज़मी की होगीं नहीं कोताही।” से राष्ट्र भक्ति का साफ संदेश दिये। इसी के साथ युवा कवियों को प्रोत्साहित करने तथा आजादी और उसके महत्व को समझाते हुए प्रांतीय महामंत्री राम पुकार सिंह, सेन्ट्रल कोलकाता जिलाध्यक्ष रमाकान्त सिन्हा, हुगली जिलाध्यक्ष रीमा पान्डेय, दक्षिण कोलकाता जिलाध्यक्ष सीमा सिंह, सेंट्रल कोलकाता जिला महामंत्री स्वागता बसु, नार्थ 24 परगना जिला मंत्री सुषमा राय पटेल, सुदामी यादव, आलोक चौधरी आदि ने अपनी राष्ट्रवादी कविताओं से युवा रचनाकारों का मार्गदर्शन किया। कार्यक्रम में सम्मिलित होने वाले युवा रचनाकारों मे मोनू यादव, निशा राजभर, सपना कुमारी, विश्वरूप शाह परीक्षित, निखिता पाण्डेय, उत्तीर्णा धर, सौमि मजूमदार, बद्रीनाथ साव और अभिषेक पाण्डेय प्रमुख थे, जिन्होंने अपनी-अपनी कविताओं द्वारा सबका मन मोह लिया। कार्यक्रम का कुशल संचालन अभिषेक पांडे ने किया। प्रांतीय मंत्री बलवंत सिंह गौतम, प्रान्तीय संयोजक देवेश मिश्रा की उपस्थिति ने सबका उत्साह वर्धन किया। कार्यक्रम में रामकाव्य राष्ट्रीय प्रतियोगिता सेंट्रल कोलकाता जिले की संयोजिका मुस्कान साव तथा सह-संयोजिका ज्योति साव भी उपस्थित थी। प्रान्तीय सह संयोजक स्वागता बसु ने कार्यक्रम के अन्त में धन्यवाद ज्ञापन किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × two =