विलुप्त व्यंजनों को संरक्षित करेगी अन्नपूर्णा स्वादिष्ट, अगस्त में आएगा आईपीओ

0
93

तुरियो फाउंडेशन की साझीदारी में ओलंकार रेंज के तहत लाई गोहनाबड़ी
कोलकाता । पैकेज्ड नमकीन, खाद्य एवं ब्रेवरेज निर्माता कम्पनी अन्नपूर्णा स्वादिष्ट खुद को एनएसई-एसएमई प्लेटफॉर्म पर सूचीबद्ध करने की तैयारी में है। कम्पनी अगस्त में आईपीओ ला रही है और उसे बाजार से 28 करोड़ रुपये उगाहने की उम्मीद है। इस राशि का उपयोग कम्पनी के विस्तार में होगा। अन्नपूर्णा स्वादिष्ट मुख्य रूप से टियर 3 और 4 बाजार में मजबूत पकड़ रखती है। कम्पनी की खासियत इसके 1 रुपये से 5 रुपये तक की पैकेजिंग वाले उत्पाद और पारम्परिक व्यंजन विधि को बरकरार रखना है।
अन्नपूर्णा स्वादिष्ट के सह-संस्थापक और अध्यक्ष श्रीराम बागला ने कहा कि अपने उत्पाद पोर्टफोलियो को बढ़ाने और ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक शहरों को कवर करने की योजना है। अन्नपूर्णा स्वदिष्ट, का कारोबार 62 करोड़ रुपये का है, चालू वित्त वर्ष को लगभग ₹180-200 करोड़ पर बंद करने की उम्मीद कर रहा है।
कम्पनी की स्थापना हालांकि 2016 में ही हुई थी मगर पैकेज्ड खाद्य पदार्थों के कारोबार में यह 2020 में उतरी। बागला के मुताबिक कोविड -19 के कारण उनको व्यवसाय में काफी सहायता मिली। आसनसोल और सिलीगुड़ी में अन्नपूर्णा की निर्माण इकाइयाँ हैं और शीघ्र ही राज्य में दो और निर्माण इकाईयाँ आरम्भ होंगी जिनमें से एक धूलागढ़ में होंगी।
अन्नपूर्णा स्वाधीन के सह-संस्थापक और अध्यक्ष श्रीराम बागला ने कहा कि बंगाल की पारम्परिक व्यंजन कला को देश के दूसरे हिस्सों में ले जाने के लिए बिग बास्केट जैसी कम्पनी से भी साझेदारी की गयी है।
कम्पनी पारम्परिक व्यंजन ओलंकार भी बना रही है। ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने वाली संस्था तूरियो फाउंडेशन के साथ साझेदारी करते हुए पूर्वी भारत में अपनी पकड़ मजबूत बनाने के लिए अन्नपूर्णा स्वादिष्ट काम कर रही है। पूर्व मिदनापुर की पारम्परिक गोहना बड़ी (आभूषण के आकार की बड़ियाँ) , बिहार के अचार,झारखंड के पापड़ समेत घी एवं मधु निर्माण के क्षेत्र में कम्पनी सक्रिय है। फिलहाल अन्नपूर्णा स्वादिष्ट के पास 450 वितरक हैं और यह संख्या और भी बढ़ाई जाएगी। तूरियो फाउंडेशन के निदेशक संदीप माइती ने कहा कि अन्नपूर्णा स्वादिष्ट के साथ और भी विलुप्त हो रहे पारम्परिक व्यंजनों को ओलंकार रेंज के माध्यम से सामने लाया जाएगा। जून 2022 में, अन्नपूर्णा ने 11.05 करोड़ रुपये की मासिक बिक्री की और वर्तमान में, 490 कर्मचारियों की एक टीम है जिसमें से 70 महिलाएं हैं।

Previous articleसरकार के लेखे-जोखे में सुधार जरूरी – सुरेश प्रभु
Next articleकोविड -19 को लेकर नये निर्देश चाहता है उद्योग जगत
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven + 17 =