शुभजिता से जुड़िए, शुभजिता पर लिखिए, शुभजिता पर दिखिए

0
1776

अब आप शुभजिता पर पंजीकरण करने के बाद लॉगिन कर के लिख सकते हैं। इसके लिए कृपया इन निर्देशों का ध्यान अवश्य रखें जिससे शुभजिता पर आपकी सृजनात्मकता का प्रवाह और सुन्दर हो

लेखकों तथा ब्लॉगर्स के लिए नियम

√ रचनाएँ हिंदी (देवनागरी लिपि/यूनिकोड) में टंकित हो। मौलिक व स्वरचित हो

√ विषय का कोई बन्धन नहीं है। तस्वीर जेपीजी फॉरमेट में हो।

√ कविता हो तो अधिकतम 3 कविताएं भेजें।

√ रचनाओं को भेजने से पहले कई बार पढ़कर त्रुटियाँ सुधार लें।

निबन्ध या लेख में किसी आँकड़ें या महत्त्वपूर्ण जानकारी का उल्लेख कर रहें हों तो उसकी सत्यता/प्रमाणिकता के लिए सूत्र/संदर्भ की जानकारी अवश्य दें।

√ साहित्यिक रचनाओं के अतिरिक्त किसी प्रकार की शोधपरक या खोजपरक स्टोरी, उत्पाद आकलन (प्रोडक्ट रिव्यू), पुस्तक, फिल्म, नाटक, कला प्रदर्शनी की निष्पक्ष समीक्षा, रेसिपी, टिप्स, यात्रा विवरण, ऐतिहासिक स्थल, पर्यटन सम्बन्धी आलेख आप भेज सकते हैं या अपलोड कर सकते हैं।

√ अगर किसी दूसरे का साक्षात्कार, लेख या पुस्तक समीक्षा है तो अनुमति पत्र संलग्न करना न भूलें। अगर अपलोड कर रहे हैं तो फोटोकॉपी (इमेज) अपलोड कर दें।

√ किसी भी लेख, कहानी, कविता या अन्य सामग्री के विचार लेखक के निजी विचार होंगे।

√ हम आपसे रचना प्रकाशन शुल्क नहीं लेते और न ही देते हैं। आप अपनी सुविधा के अनुसार सहमत हों, तभी रचना भेजें या अपलोड करें।

√ शुभ सृजन सम्पर्क हिन्दी इन्फो डायरेक्टरी के सदस्यों की रचनाओं को प्राथमिकता मिलेगी।

√ अगर ई मेल कर रहे हैं तो विषय की जानकारी शीर्षक के साथ अवश्य दें।√

√ रचना अपलोड करने के बाद कृपया उसे पब्लिश न करें…ड्राफ्ट में रहने दें…चयन होने पर उसे शुभजिता द्वारा ही प्रकाशित किया जाएगा।

√ प्रकाशन पर अंतिम निर्णय शुभजिता का होगा और वही मान्य होगा। इस सन्दर्भ में कोई पत्र – व्यवहार, बातचीत या मेल की अनुमति नहीं होगी।

√ शुभजिता वेब पत्रिका के उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए इसका शीर्षक बदलने अथवा इसमें संपादन करने का अधिकार संपादक के पास ही रहेगा।

√ सशुल्क प्रचार के लिए हमारे नियम व नीतियाँ अलग हैं।

√ हम नये रचनाकारों, खासकर युवाओं को अधिक वरीयता और प्राथमिकता देते हैं।

√ एक बार कविताएँ प्रकाशित करने के बाद एक ही कवि की कविताएँ 4 महीने से पहले दुबारा प्रकाशित करना संभव नहीं होता है और प्रकाशन का निर्णय शुभजिता स्थितियों को ध्यान में रखकर खुद लेती है इसलिए किसी अन्य से तुलना न करें और अगली बार कविताएँ पर्याप्त समय हो जाने पर ही भेजें।

रचना स्वीकृत नहीं होगी अगर
X स्कैन कॉपी या फोटो कॉपी होगी
X वर्तनी और मात्रा की अशुद्धि बहुत अधिक हो
X धार्मिक, राजनीतिक या सामाजिक प्रचार हो
X भाषा शालीन न हो, व्यक्तिगत आरोप – प्रत्यारोप हों और विवादास्पद हो
Xरचनाकार की प्रोफ़ाइल/जानकारी उपलब्ध न हो
X एक ही रचना को बार – बार भेजने पर या नियमों के उल्लंघन पर आपको ब्लॉक किया जा सकता है।

परामर्श – शुभजिता एक वेब पत्रिका है जो अपडेट होती रहती है। परामर्श है कि लेखक अपनी प्रकाशित रचना की पीडीएफ प्रति सेव अस (save as) विकल्प में जाकर सुरक्षित कर लें। आप उसका प्रिंट अपने रिकॉर्ड के लिए रख सकते हैं और यह समय पड़ने पर आपके काम आ सकेगी।

पंजीकरण कृपया इस लिंक पर जाकर करें और लॉग इन कर रचना अपलोड करें – 

Registration

(ये सभी नियम शुभजिता एवं शुभ सृजन नेटवर्क के सभी यू ट्यूब चैनलों पर भी लागू होंगे)

ई मेल करें – shubhsrijannetwork2019@gmail.com

Previous articleसफलता की ओर बढ़ता हुआ हर नया कदम ही आपकी उपलब्धि है : आशु पाटोदिया
Next articleअयी गिरि नन्दिनी..
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × three =