सुन्दरवन हिंगलगंज में स्वर्णपुरो शिक्षा निकेतन में खुला फलक पुस्तकालय

0
50

कोलकाता । सुन्दरवन  हिंगलगंज में फलक पुस्तकालय का उद्घाटन समारोह संपन्न हुआ जो वहाँ के विद्यालय स्वर्णपुरो शिक्षा निकेतन के विद्यार्थियों के लिए खोला जा रहा है। यह पुस्तकालय  सुन्दरवन  के सभी स्थानीय लोगों के लिए भी है जहाँ वे भी अपनी मनपसंद पुस्तकों को पढ़ने का लाभ उठाएंगे। सीबीएसई बोर्ड के लिए प्रस्तावित स्वर्णपुरों शिक्षा निकेतन के बच्चों के लिए फलक पुस्तकालय का विशेष महत्व है क्योंकि उस इलाके में यह पहला अंग्रेजी माध्यम का विद्यालय है।
चौबीस जुलाई को फलक पुस्तकालय का उद्घाटन समारोह मुख्य अतिथि विधायक देब्स मंडल द्वारा किया गया।अन्य गणमान्य अतिथियों में भारतीय फिल्म निर्देशक सुदेशना रॉय, केटलबॉल स्पोर्ट्स सीए शिवानी शाह जो चार बार विश्व चैंपियन रहीं और युवा शिक्षाविद् हर्षित चोखानी की उपस्थिति रही । ।उद्घाटन के बाद विद्यार्थियों द्वारा एक सुंदर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसके बाद पौधरोपण कार्यक्रम हुआ।
‘फलक स्प्रेडिंग स्माइल्स फाउंडेशन’ द्वारा बनाए गए इस पुस्तकालय का उद्देश्य स्वप्नोपुरन वेलफेयर सोसाइटी की संस्थापक सतरूपा मजूमदार के सद्प्रयास को सुन्दरवन के अंतर्गत सभी आंतरिक क्षेत्र के लोगों तक पुस्तकों की पहुँच और ज्ञान देना है।
‘फलक’ फाउंडेशन के संस्थापक तरंग कनोदिया, और अन्य सदस्य विवेक गोयल, हर्ष भुवलका, आयुष अग्रवाल, हिमांशु अग्रवाल, मिहिर सेठ, ऋतिक केडिया, माधव मनिहार, अंकित रस्तोगी, हितेश गुप्त, अनिकेत खेतान, आदर्श कठोटिया, तुषार सुरेका, उमंग कनोदिया, पूनम कनोदिया, वर्षा कनोदिया और गुरु सुशील जी कनोदिया उपस्थित थे।’फलक’ का मुख्य उद्देश्य है विद्यार्थियों में मुस्कान बिखेरना।
सुंदरबन में शिक्षा की अलख जगाने का मुख्य श्रेय सतरूपा मजूमदार को जाता है जो गत तीन – चार वर्षों से विद्यालय के विकास में अपना योगदान दे रही हैं। यह जानकारी दी डॉ वसुंधरा मिश्र ने ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 − eight =