सुशीला बिड़ला गर्ल्स स्कूल की छात्राओं ने सीखा प्रकृति संरक्षण

0
15

कोलकाता : सुशीला बिड़ला गर्ल्स स्कूल में ‘पौधों की खाद्य फैक्टरी’ का पाठ आसान बनाने के लिए चौथी कक्षा में ऑनलाइन टूल के साथ कई व्यावहारिक गतिविधियों को शामिल किया गया था। छात्राओं को पौधों और जानवरों के बीच अन्योन्याश्रयता (एक दूसरे पर निर्भर होना) और मानव गतिविधियों के प्रभावों से अवगत कराया गया। गत 22 अप्रैल पर्यावरण संरक्षण का सन्देश देते हुए एक कार्यक्रम आयोजित किया गया।
इस बार की थीम रिस्टोर आवर अर्थ यानी पृथ्वी को दोबारा सहेजना था। इसी विचार को केन्द्र में रखकर सारी गतिविधियाँ तय की गयी थीं। इसमें प्रकृति से जुड़ी प्रक्रिया, हरित तकनीक यानी ग्रीन टेक्नोलॉजी और विश्व के इको सिस्टम को संरक्षित करने पर चर्चा हुई। छात्राओं को प्लास्टिक के कुप्रभाव से अवगत करवाया गया और प्लास्टिक की बोतलों को फिर से करने के तरीके समझाए गये। उनको प्लास्टिक की बेकार बोतलों से बर्ड फीडर बनाना और कचरे को कम करना सिखाया गया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 + 10 =