हेटेरो को सी.डी.एस.सी.ओ. की मंजूरी, बना सकेगी स्पूतनिक लाइट वैक्सीन

0
80

कोलकाता । दुनिया की जानी-मानी वर्टिकली इंटीग्रेटेड फार्मास्युटिकल ऑर्गनाइजेशन ‘हेटेरो’ ने घोषणा की है कि उसकी बायोलॉजिक्स शाखा ‘हेटेरो बायोफार्मा’ को सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन (सी.डी.एस.सी.ओ.) से भारत में सीमित आपात इस्तेमाल के लिए ‘स्पुतनिक लाइट’ के निर्माण की मंज़ूरी मिल गई है। ‘हेटेरो’ भारत में पहली ऐसी बायोफार्मास्युटिकल कंपनी है, जिसे 18 वर्ष से अधिक उम्र के वयस्कों में कोविड-19 की रोकथाम के लिए,0.5 मिली की एकल खुराक वाले, स्थानीय रूप से निर्मित उत्पाद के निर्माण और मार्केटिंग (एम और एम) की मंज़ूरी मिली है। इस समय भारत में मंजूरशुदा अन्य सभी वैक्सीन की दो खुराकें लेनी पड़ती हैं।
स्पुतनिक लाइट, स्पुतनिकV का पहला घटक (पुनः संयोजक ह्यूमन एडेनोवायरस सीरो टाइप नंबर 26 (rAd26)) है –जो कि कोरोनावायरस रोग, कोविड-19 के लिए दुनिया की पहली पंजीकृत वैक्सीन है। फरवरी 2022 में, ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डी.सी.जी.आई.) ने भारत में एकल-खुराक वाली कोविड-19 वैक्सीन‘स्पुतनिक लाइट’ के आपात इस्तेमाल की अनुमति दी है।
डॉ. शुभदीप सिन्हा , सीनियर वी. पी. एंड हेड – क्लिनिकल डेवलपमेंट एंड मेडिकल अफेयर्स (सी.डी.एम.ए.) हेटेरो, ने कहा कि स्पुतनिक लाइट (स्पुतनिकVका घटक I) में, दोनों ग्लाइकोप्रोटीन विशिष्ट और वायरस – न्यूट्रलाइजिंग एंटीबॉडी के साथ-साथ सी डी 4 और आईएफएन – वाई  स्तरों के साथ,कोविड -19 के खिलाफ विशेष रूप से एंटीबॉडी के उच्च टाइटर्स पाए गए थे। स्पुतनिक लाइट ने भी SARS CoV-2 वायरस की ओमिक्रॉन किस्म के खिलाफ अपनी निष्क्रिय करने की गतिविधि दिखाई थी। इससे पहले किए गएस्पुतनिक Vके नैदानिक परीक्षणों ने विश्व स्तर पर कोविड-19 वायरसकी अन्य उप-किस्मों से सुरक्षा के लिए काफी अच्छे संकेत दिए हैं।”

Previous articleएचआईटीके का सौम्यजीत गेट 2022 की परीक्षा में देश में तीसरे स्थान पर
Next articleपन्ना डायमंड वर्ल्ड ने हावड़ा में खोला अपना तीसरा स्टोर
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × 1 =