हेरिटेज बिजनेस स्कूल में अन्तरराष्ट्रीय वेबिनार

0
137

कोलकाता । हेरिटेज बिजनेस स्कूल ने लिंकन इंटरनेशनल बिजनेस स्कूल, यूके के सहयोग से फर्म और संस्थानों पर वैश्विक घटनाओं का प्रभाव, जोखिमों और स्थितियों के प्रति लचीलापन और उनसे उभरने के तरीकों को लेकर अन्तरराष्ट्रीय वेबिनार आयोजित किया। इस वेबिनार में कोविड -19 के बाद की अर्थव्यवस्था, महामारी के बाद पर्यावरणीय प्रभाव, महामारी के प्रभाव के लिंग प्रभाव और कई अन्य मुद्दों पर चर्चा हुई। सम्मेलन में हेरिटेज बिजनेस स्कूल के चीफ मेंटर एवं बंधन बैंक के चेयरमैन डॉ. अनूप सिन्हा, लिंकन यूनिवर्सिटी में कोर एवं एलआईआईआरएच आईएसएबी के रेजिलिएन्स के प्रोफेसर प्रो. डीन फादर्स ने वक्तव्य रखे। इसके अतिरिक्त ब्रिटेन के यूनिवर्सिटी ऑफ मैनचेस्टर के ग्लोबल डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट में इकोनॉमिक्स ऑफ पोवर्टी रिडक्शन के प्रेसिडेंशियल फेलो डॉ. उपासक दास, यूनिवर्सिटी ऑफ बाथ के एसोसिएट प्रोफेसर (रीडर) डॉ. शुभाशीष चौधरी, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ बैंक मैनेजमेंट, भारत के निदेशक प्रो. पार्थ राय, यूनिवर्सिटी ऑफ ब्रिस्टल, ब्रिटेन, के प्रो. मार्टिन पार्कर, आईआईएम कलकत्ता की प्रो. रुना सरकार एवं ढाका विश्वविद्यालय की प्रो. सलमा अख्तर ने भी विचार रखे।
पूरे सम्मेलन का संयोजन हेरिटेज बिजनेस स्कूल की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. रिमू चौधरी, लिंकन इंटरनेशनल बिजनेस स्कूल, यूके की अनुसंधान निदेशक प्रोफेसर साइमन लिली, लिंकन इंटरनेशनल बिजनेस स्कूल, यूके में डेवलपमेंट इकोनॉमिक्स की एसोसिएट प्रोफेसर (रीडर) प्रो. श्राबनी साहा, हेरिटेज बिजनेस स्कूल के चीफ मेंटर डॉ. अनूप सिन्हा ने किया। हेरिटेज बिजनेस स्कूल एवं पैटन इंटरनेशनल लि. के चेयरमैन एवं कल्याण भारती ट्रस्ट के ट्रस्टी एच. पी. बुधिया ने कहा कि हर वैश्विक स्तर पर विशेषज्ञों के व्यावहारिक परामर्श विद्यार्थियों तक ले जाने के उद्देश्य से इस तरह के आयोजन किये जाते हैं।
सम्मेलन 19 फरवरी 2022 तक चला।
हेरिटेज ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस, कोलकाता के सीईओ पी.के.अग्रवाल ने कहा, “यह सम्मेलन छात्रों को कोविड -19 के कारण वैश्विक झटके के बाद अर्थव्यवस्था को प्रभावित करने वाले विभिन्न कारकों को जानने में मदद करेगा।”

Previous articleसन्मार्ग ‘वाद – संवाद’ परिचर्चा का तीसरा संस्करण आयोजित
Next articleलता अनंत कार्यक्रम में स्वर साम्राज्ञी को अर्पित की गयी श्रद्धांजलि 
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen + sixteen =