35 बेडरूम वाला बर्फ का होटल शुरू, यहाँ पर्यटक माइनस 5 डिग्री में रहेंगे

0
67

आइस होटल में एक रात रुकने का किराया 17 हजार से 1 लाख रुपये के बीच है
पांच महीने बाद होटल नदी में बदल जाएगा, 31 साल से बनाया जा रहा है
स्टाकहोम : स्वीडन का चर्चित आइस होटल एक बार फिर पर्यटकों के लिए बनकर तैयार हो गया है। हर साल इसे सर्दियों में बनाया जाता है। 5 महीने बाद यह पिघल जाता है। 1989 में से यह परंपरा चली आ रही है। यह होटल का 31वां साल है। यह आर्कटिक सर्कल से करीब 200 किमी दूर टॉर्न नदी के तट पर बना है। इसे बनाने के लिए टॉर्न नदी से 2500 टन बर्फ जमा की जाती है। अक्टूबर से इसका निर्माण शुरू हो जाता है। इसे बनाने के लिए दुनियाभर से कलाकार आते हैं।
इस बार यहाँ पर 35 बेडरूम यानी शयन कक्ष बनाए गए हैं। इन्हें बर्फ के नक्काशीदार पर्दे और हिरन की प्रतिकृतियों से सजाया गया है। साथ ही एक सभागार भी है। यहाँ बर्फ से बनी 6 बेंच रखी गयी हैं। रूम के अंदर तापमान माइनस 5 डिग्री के आसपास रहता है। हर साल 50 हजार से ज्यादा पर्यटक इस होटल में रुकने के लिए आते हैं। मई तक बर्फ पिघलना शुरू हो जाती है। इसके बाद होटल बंद कर दिया जाता है।
पूरी तरह इको फ्रेंडली होटल
यह होटल पर्यावरण अनुकूल है। यहां पर रखे गए सभी उपकरण सौर ऊर्जा से चलते हैं। इस होटल में आइस बार भी है। यहां पर गिलास भी बर्फ से ही बनाए गए हैं। इसके अलावा फीचर लाइटिंग की व्यवस्था है। इससे लुक बदलता रहता है। साउंड इफेक्ट से जंगल जैसा अहसास होता है।
होटल के बाहर का नजारा भी खूबसूरत होता है। इंटीरियर दुनिया के चर्चित पर्यटन स्थलों से प्रेरित रहता है। होटल के अंदर आइस सेरेमनी हॉल और बच्चों के लिए क्रिएटिव जोन भी बनाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen − 15 =