413 करोड़ रुपये में नीलाम हुआ दुर्लभ गुलाबी हीरा

0
35

हांगकांग में एक अति दुर्लभ खूबसूरत गुलाबी हीरा 413 करोड़ रुपये में नीलाम हुआ है। हीरे के लिए जो बोली लगाई गई वह इसके अनुमान से दोगुना है। यह किसी नीलामी में प्रति कैरेट हीरे के लिए लगी बोली के मामले में विश्‍व रिकॉर्ड है। इस हीरे का नाम विलिम्‍सन पिंक स्‍टार है और यह 11.15 कैरेट का है। इसका नाम क्‍वीन एलिजाबेथ को शादी के गिफ्ट के रूप में दिए गए हीरे के नाम पर ही इसका नाम रखा गया है।
इस हीरे को हांगकांग में सूदबे ने एक अज्ञात खरीदार को बेचा है। लंदन के एक जूलरी शॉप के एमडी तोबिआस कोरमिंड ने बताया कि इस हीरे का संबंध दिवंगत रानी एलिजाबेथ से होने की वजह से इसको इतने ज्‍यादा पैसे मिले। उन्‍होंने कहा, ‘यह बहुत ही हैरान करने वाला परिणाम है।’ कोरमिंड ने कहा कि जब आप क्‍वीन एलिजाबेथ से इसका रिश्‍ता जोड़ते हैं तो इस दाम बढ़ जाता है और ऊपर से यह बहुत ही दुर्लभ है। उन्‍होंने बताया कि पिछले 10 साल में दुनिया के सबसे अच्‍छी क्‍वालिटी के हीरों के दाम दोगुना हो गए हैं।
तंजानिया की मवादुई खान में म‍िला यह हीरा
तकिये के आकार के इस हीरे का नाम दो अन्‍य विशाल पिंक डायमंड के नाम पर रख गया है। इसमें पहला हीरा 59.60 कैरेट का है जिसे पिंक स्‍टार डायमंड कहा जाता है। इस हीरे को साल 2017 में 71 मिलियन डॉलर में नीलाम किया गया था। वहीं दूसरा हीरा विलिम्‍सन है जो 23.60 कैरेट का है। इस हीरे को ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ को कनाडा के भूगर्भशास्‍त्री जॉन विलिम्‍सन ने साल 1947 में गिफ्ट किया था। यह महारानी के पसंदीदा हीरों में शामिल था। उन्‍होंने इस हीरे को कई मौकों पर पहना था।
विलिम्‍सन हीरे का स्‍वामित्‍व तंजानिया के मवादुई खान के पास था जहां इस विलिम्‍सन और पिंक स्‍टार डायमंड को खुदाई में निकाला गया था। सूदबे के एक एशिया के अधिकारी वेनहाओ यू ने कहा, ‘गुलाबी हीरे की कोई भी खोज अपने आप में दुर्लभ होती है।’ पिंक डायमंड रंगीन हीरों में खासतौर पर बहुत खास होते हैं। यह कोई भी अभी पता नहीं लगा पाया है कि इनका रंग गुलाबी कैसे हो जाता है। इसका रंग ही इस हीरे को बहुत ही खास बनाता है।

Previous articleनए श्रम कानून पर 31 से अधिक राज्य एवं केन्द्रशासित राज्य सहमत
Next article56 धोती, पैरों से खून… जब हजारीबाग जेल से भाग निकले थे जयप्रकाश
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

6 + 18 =