88 दिन में 520 ऑनलाइन कोर्स करके बनाया विश्व रिकॉर्ड

0
183

तिरुअनन्तपुरम : दुनियाभर में जो लड़कियां पढ़-लिखकर अपने देश और माता-पिता का नाम रोशन कर रही हैं, उन्हीं में केरल की आरती रघुनाथ भी शामिल हैं। माता-पिता की इकलौती संतान आरती ने महामारी के दौरान घर में रहते हुए अपना समय पढ़ाई करने में बिताया।
आरती ने कंप्यूटर, बायोलॉजी से लेकर इकोनॉमिक्स पर आधारित अलग-अलग कोर्स किए। उन्होंने जिन यूनिवर्सिटीज से कोर्स किए उनमें जॉन हॉकिंस यूनिवर्सिटी, यूनिवर्सिटी ऑफ वर्जीनिया, यूनिवर्सिटी ऑफ कोलोराडो बोल्डर, यूनिवर्सिटी ऑफ कोपेनहेगन, यूनिवर्सिटी ऑफ रोचेस्टर, एमोरी यूनिवर्सिटी, कोरसेरा प्रोजेक्ट नेटवर्क और टेक्नीकल यूनिवर्सिटी ऑफ डेनमार्क भी शामिल हैं।
आरती कोच्चि में एलमकारा की रहने वाली हैं। वे एमईएस कॉलेज में एमएससी बायोकेमेस्ट्री की सेकंड ईयर स्टूडेंट हैं। उन्होंने 88 दिन में 520 ऑनलाइन कोर्स करके वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम किया। आरती ने किस तरह पढ़ाई की और उनके भविष्य की योजनाएं क्या है, जानिए खुद उन्हीं की जुबानी…
मैंने ऑनलाइन कोर्स की शुरुआत लॉकडाउन में रहते हुए जून के आखिरी हफ्ते से की। तब तक लॉकडाउन का काफी हिस्सा बीत चुका था। मुझे ये लगा कि जो वक्त बीत चुका है, उसे तो फिर से नहीं पाया जा सकता, लेकिन जो समय अभी बाकी है, उसका सही उपयोग करके ऑनलाइन कोर्स किए जा सकते हैं।
मैंने ये कोर्सेस करने में खूब मेहनत की। हालांकि मैं इतने सारे कोर्स कर पाऊंगी, इसकी मुझे उम्मीद नहीं थी, पर मेरी मेहनत रंग लाई। ऑनलाइन कोर्सेस की सबसे अच्छी बात यह है कि इसके लिए कहीं बाहर जाने की जरूरत नहीं है। आप घर बैठे इन्हें कर सकते हैं। ये मेरी खुशनसीबी है कि 520 ऑनलाइन कोर्सेस करके मैंने वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम किया।
मैंने एमएससी ऑनलाइन क्लासेस करने के बाद बचे हुए समय में ऑन लाइन कोर्स किए। इनमें से जो कोर्स कंप्यूटर पर आधारित थे, वो मैं जल्दी पूरे कर लेती थी। लेकिन बायोलॉजी और साइकोलॉजी पर आधारित कोर्स करने में मुझे ज्यादा समय लगा क्योंकि उसे पढ़ने और समझने की ज्यादा जरूरत होती है।
मेरी तरह अन्य स्टूडेंट्स के लिए भी इस तरह के ऑनलाइन कोर्स करिअर को सफल बनाने में मदद कर सकते हैं। इन कोर्सेस को करने के बाद मिले सर्टिफिकेट हमारी प्रोफाइल अपडेट करने में मदद करते हैं। ये सभी कोर्सेस इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी से मान्यता प्राप्त हैं जो काफी उपयोगी साबित होते हैं।

(साभार – दैनिक भास्कर)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 + 9 =