एचआईटीके में आयोजित हुआ वर्चुअल प्रवर्तन कार्यक्रम

0
410

कोलकाता : हेरिटेज इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, कोलकाता ने विद्यार्थी प्रवर्तन कार्यक्रम हाल ही में आयोजित किया। यह कार्यक्रम बी. टेक तथा एम.टेक के नये बैच के लिए वर्चुअल प्रणाली से जूम माध्यम से आयोजित किया गया था। कार्यक्रम को बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित रामकृष्ण मिशन विवेकानंद एडुकेशनल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट के प्रो वाइस चांसलर स्वामी आत्मप्रियनंदजी महाराज ने सम्बोधित किया। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि उनको खुद को कमतर नहीं समझना चाहिए और दायित्व उठाने के लिए तैयार रहना चाहिए। इनके साथ प्रधान अतिथि द असम रॉयल ग्लोबल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रो. डॉ. एस. पी, सिंह ने भी विचार रखे। उन्होंने कहा कि असफलता, सकारात्मकता और परिश्रम की सफलता और खुशी की नींव रखते हैं। एचआईटीके के चेयरमैन पी. आर. अग्रवाल भी इस अवसर पर उपस्थित थे। कार्यक्रम में कल्याण भारती ट्रस्ट के निदेशक प्रबीर रॉय, सीईओ प्रदीप अग्रवाल, एचआईटीके के प्रिंसिपल डॉ. प्रणय चौधरीऔर रजिस्ट्रार डॉ.सुजीत कुमार बरुआ समेत कई अन्य अतिथि उपस्थित थे। विद्यार्थियों ने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के जेनर इंस्टीट्यूट में कार्यरत चन्द्रावली दत्ता तथा नासा जेट प्रोपल्सन लैबरोटरी में कार्यरत डॉ. चिरंजीत मुखर्जी के भी विचार सुने। दोनों ही एचआईटीके के पूर्व विद्यार्थी हैं।

 

Previous articleनिटको ने अपने शोरूम का किया विस्तार
Next articleदिवाली पर कीजिए सबका मुँह मीठा
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × one =