शुभजिता सौन्दर्य – ब्यूटी विद ब्रेन एंड हार्ट

0
679

सुन्दरता क्या होती है.,…हम इसे शारीरिक आकर्षण से बांधते हैं…तो कई बार कह देते हैं कि मन ही सुन्दर हो तो वही असली सुन्दरता है पर बुद्धि का क्या…मेधा और हुनर का क्या…हमारी दृष्टि में सौन्दर्य एक समन्वय है…शरीर, मन और बुद्धि के सौन्दर्य का संगम…मतलब एक पूरा पैकेज…कम्प्लीट पैकेज… ब्यूटी…नॉट ओनली विद ब्रेन…बल्कि ब्यूटी विद ब्रेन एंड हार्ट…तभी तो आप होंगे प्रिय औऱ होगी दर्शन की इच्छा…प्रियदर्शिनी..। हमारा उद्देश्य है कि हम भारतीय हस्तशिल्प, कला, संस्कृति को सामने लाएं हम हर बार इसी के आधार पर आपको थीम देंगे।

मापदंड – शुभजिता सौन्दर्य का मापदंड यह नहीं है कि आप की लम्बाई कितनी ज्यादा है…आपका वजन कितना कम या अधिक है….आपकी कद – काठी कैसी है…हमारा मापदंड है कि कितने प्रेजेंटेबल हैं…खुद को लेकर आपमें कितना आत्मविश्वास है। आप जैसे हैं…वैसे ही कितने आत्मविश्वास के साथ खुद को सामने रखते हैं।

हमें आपके चश्मे से कोई दिक्कत नहीं है…हम यह जानना चाहते हैं कि आपके सोच का चश्मा कितना बड़ा है…आपके सपने कितने बड़े हैं..आप रूढ़ियों और जर्जरताओं को कहाँ तक तोड़ पा रहे हैं….और बतौर नागरिक अपने कर्तव्यों और अधिकारों को लेकर कितने सजग हैं और बतौर नागरिक आपके सपने क्या हैं…और जिम्मेदारियाँ कैसे निभा रहे हैं। आप अपने देश के हस्तशिल्प, कला, संस्कृति को अपने जीवन में कहाँ तक उतार सके हैं औऱ जिनको जरूरत है, आप उनकी मदद कैसे कर रहे हैं।

तो क्या आपको लगता है कि आप में है वह बात कि आप बन सकती हैं प्रियदर्शनी या श्रीमती प्रियदर्शनी…या फिर आप बन सकते हैं प्रियदर्शन या श्रीमान प्रियदर्शन…

वर्ग – प्रियदर्शनी (18 -25). श्रीमती प्रियदर्शिनी (25 वर्ष से ऊपर)
पुरुषों के लिए – प्रियदर्शन (18 -25), श्रीमान प्रियदर्शन (25 वर्ष से ऊपर)
राज्यों की परम्परागत कला का आपके परिधानों में नजर आना आवश्यक है…)

अगर हाँ…. तो अपनी तस्वीर भेजिए औऱ बताइए
अपना नाम,
उम्र,
जीवन का उद्देश्य,
अपनी समस्याओं से लड़ने का तरीका
समाज को सुन्दर बनाने के लिए आपने क्या किया है
आप क्यों सोचते हैं कि आप ही हैं इस उपाधि की/के हकदार?

तस्वीर – दो फुल (आदमकद) और एक क्लोज अप

प्रवेश शुल्क – 200 रुपये

तस्वीर औऱ जानकारी शुभजिता में पंजीकरण के बाद अपलोड की जा सकती है

विजेता को मिलेगा – शुभजिता  और शुभजिता यू ट्यूब चैनल में फीचर होने का मौका…
(प्रियदर्शन – प्रियदर्शिनी)
एक प्रोफाइल फोटो शूट
सभी प्रतिभागियों को मिलेगा ग्रूमिंग कार्यशाला में भाग लेने का मौका
ग्रूमर होंगी – शगुफ्ता हनाफी

निर्णायक और ग्रूमिंग सत्र में विशेषज्ञ

 शगुफ्ता हनाफी एक पी आर प्रोफेशनल हैं। हमारी आयोजन सहयोगाी संस्था शी – शगुफ्ता हनाफी इवेन्ट्स की संस्थापक और लॉन्चर्ज पी आर एंड इवेन्ट्स की सह संस्थापक हैं। बतौर सामाजिक कार्यकर्ता पिछले 15 साल से महिलाओं और बच्चों के लिए लगातार काम करती आ रही हैं। शगुफ्ता बेस्ट फ्रेंड्ज सोसायटी की सचिव और जुनौद एडुकेशन फाउंडेशन की सह  संस्थापक हैं।

 

Previous articleक्या सच में थे रावण के दस सिर?
Next articleबिहार को मखाना के लिए मशहूर बनाने में जुटे ‘मखाना मैन’ सत्यजीत
शुभजिता की कोशिश समस्याओं के साथ ही उत्कृष्ट सकारात्मक व सृजनात्मक खबरों को साभार संग्रहित कर आगे ले जाना है। अब आप भी शुभजिता में लिख सकते हैं, बस नियमों का ध्यान रखें। चयनित खबरें, आलेख व सृजनात्मक सामग्री इस वेबपत्रिका पर प्रकाशित की जाएगी। अगर आप भी कुछ सकारात्मक कर रहे हैं तो कमेन्ट्स बॉक्स में बताएँ या हमें ई मेल करें। इसके साथ ही प्रकाशित आलेखों के आधार पर किसी भी प्रकार की औषधि, नुस्खे उपयोग में लाने से पूर्व अपने चिकित्सक, सौंदर्य विशेषज्ञ या किसी भी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। इसके अतिरिक्त खबरों या ऑफर के आधार पर खरीददारी से पूर्व आप खुद पड़ताल अवश्य करें। इसके साथ ही कमेन्ट्स बॉक्स में टिप्पणी करते समय मर्यादित, संतुलित टिप्पणी ही करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 + seven =